PM मोदी का रोड शो रद्द, आज जा सकते हैं मोरबी; 132 लोगों की मौत

0
69

PMO ने ट्वीट करके कहा कि मोदी ने इस संबंध में गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेन्द्र पटेल और अन्य अधिकारियों से बात की। मोदी ने राहत और बचाव कार्यों के लिए रेस्क्यू टीम तत्काल तैनात करने को कहा।

गुजरात के मोरबी शहर में रविवार शाम हुए पुल हादसे में मरने वालों की संख्या 132 पहुंच गई है। कुछ घायलों की स्थिति अभी भी गंभीर बताई जा रही है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज मोरबी जा सकते हैं। इस दौरान उनके घायलों और मृतकों के परिवार वालों से मिलने की संभावना जताई जा रही है। दरअसल, पीएम मोदी गुजरात और राजस्थान के तीन दिन के दौरे पर हैं। हादसे के चलते उनके कार्यक्रम में बदलाव किया गया है। सोमवार को अहमदाबाद में मोदी की ओर से होने वाला रोड शो रद्द कर दिया गया है।

बीजेपी गुजरात मीडिया सेल ने बताया कि प्रधानमंत्री मोदी की वर्चुअल उपस्थिति में होने वाला पेज कमेटी स्नेह मिलन कार्यक्रम स्थगित कर दिया गया है। मीडिया संयोजक डॉ याग्नेश दवे ने कहा कि मोरबी त्रासदी के मद्देनजर सोमवार को कोई कार्यक्रम नहीं होगा। हालांकि, 2,900 करोड़ रुपये के रेलवे प्रोजेक्ट को समर्पित करने का कार्यक्रम कैंसिल नहीं किया गया है।

पूरी रात चलता रहा राहत और बचाव कार्य: गृह मंत्री
राज्य के गृह मंत्री हर्ष संघवी ने बताया कि घटना के तुरंत बाद नेवी, NDRF, वायुसेना और सेना तेजी से मौके पर पहुंच गई। पूरी रात राहत और बचाव कार्य चलाया गया। इस काम में 200 से अधिक लोग लगे हुए थे। इससे पहले पीएम मोदी ने मोरबी में पुल टूटने से हुए हादसे पर दुख जताया। प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) ने ट्वीट करके कहा कि मोदी ने इस संबंध में गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेन्द्र पटेल और अन्य अधिकारियों से बात की है। मोदी ने राहत और बचाव कार्यों के लिए रेस्क्यू टीम तत्काल तैनात करने को कहा। उन्होंने मोरबी दुर्घटना में जान गंवाने वाले प्रत्येक के परिजनों के लिए पीएमएनआरएफ (प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष) से 2-2 लाख रुपये की सहायता व घायलों को 50,000 रुपये देने की घोषणा की है।

मालूम हो कि यह पुल करीब एक सदी पुराना था और मरम्मत के बाद हाल ही में इसे लोगों के लिए खोला गया था। अधिकारियों ने कहा कि हाल ही में मरम्मत के बाद जनता के लिए चार दिन पहले ही फिर से खोले गए इस पुल पर लोगों की काफी भीड़ थी। उन्होंने बताया कि पुल शाम करीब साढ़े छह बजे टूट गया।

मृतक के परिवार को 4 लाख की सहायता राशि
सीएम पटेल ने कहा कि मोरबी झूलता पुल टूटने की दुर्घटना से अत्यंत व्यथित हूं, इस हादसे में जान गंवाने वाले नागरिकों के परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं। राज्य सरकार इस हादसे के प्रत्येक मृतक के परिवार को 4 लाख रुपये और घायलों को 50,000 रुपये की सहायता प्रदान करेगी। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने भी स्थिति पर लगातार निगरानी करने और प्रभावित लोगों को हर संभव मदद देने को कहा।

कांग्रेस ने मानव निर्मित त्रासदी बताया
कांग्रेस के कुछ नेताओं ने घटना को लेकर भाजपा पर निशाना साधा और रणदीप सुरजेवाला ने इसे मानव निर्मित त्रासदी बताया। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने पूछा कि क्या गुजरात के मोरबी जिले में मच्छू नदी पर बने केबल पुल का गिरना दैवीय घटना है या धोखाधड़ी का कृत्य। वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के उसी वाक्य को दोहरा रहे थे जिसे उन्होंने 31 मार्च, 2016 को कोलकाता में विवेकानंद रोड फ्लाईओवर गिरने के बाद पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली सरकार पर कटाक्ष करते हुए एक रैली में इस्तेमाल किया था। उस घटना में भी कई लोग मारे गए थे।