MP बेस्ट स्टेट, नेशनल वाटर अवॉर्ड मिला

0
23

:उप राष्ट्रपति ने दिल्ली में दिया पुरस्कार; अच्छे काम को सराहा

भोपाल.
दिल्ली में शनिवार को उप राष्ट्रपति से पुरस्कार पाते मध्यप्रदेश के जलसंसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट एवं अन्य अधिकारी।
मध्यप्रदेश को देश में जल संरक्षण, संवर्धन और मानव जीवन के लिए जल के उपयोग में सबसे बेहतर काम करने पर सर्वश्रेष्ठ राज्य का राष्ट्रीय जल पुरुस्कार मिला है। दिल्ली में शनिवार को हुए कार्यक्रम में उप राष्ट्रपति जगदीप धनकड़ ने यह पुरस्कार दिया। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की ओर से जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट ने पुरस्कार प्राप्त किया।
जल शक्ति मंत्रालय ने नई दिल्ली विज्ञान भवन में चतुर्थ राष्ट्रीय जल पुरुस्कार समारोह आयोजित किया। जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत, राज्य मंत्री प्रहलाद पटेल, विश्वेशर टुडू भी अतिथि के रूप में उपस्थित थे। मंत्री सिलावट के साथ अपर मुख्य सचिव एसएन मिश्रा, मोहनपुरा-कुंडालिया परियोजना से विकास राजोरिया, शुभंकर विश्वास एवं गरिमा अग्रवाल मौजूद थे।

प्रदेश में सिंचाई का रकबा भी बढ़ा
जल संसाधन मंत्री सिलावट ने बताया, मुख्यमंत्री चौहान के नेतृत्व में कृषि और किसानों के लिए ऐतिहासिक काम हुए हैं। पिछले 18 वर्ष में प्रदेश में सिंचाई का रकबा 7 लाख से बढ़कर 45 लाख हेक्टेयर हो गया है। जिसे वर्ष 2025 तक 65 लाख हेक्टेयर कर लिया जाएगा। जल प्रबंधन के क्षेत्र में मध्यप्रदेश ने हर क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य किया है। प्रदेश को यह अवॉर्ड जल संसाधनों के उत्कृष्ट प्रबंधन से जल क्षेत्र के समस्त भागाँ में जिन विशिष्ट कार्य के लिए मिला है।
जल उपयोग दक्षता उन्नयन
डेम से सीधे खेतों तक भूमिगत पाइप लाइन के माध्यम से जल को पहुंचाए जाने का नवाचार प्रदेश में किया गया है। मोहनपुरा एवं कुंडालिया परियोजना (2 लाख पचासी हजार हेक्टेयर) के रूप में जल उपयोग दक्षता उन्नयन के क्षेत्र में अनुकरणीय सिंचाई परियोजना के रूप में स्थापित हो चुके हैं।