IIT मद्रास देश में नंबर वन, NIRF रैंक जारी

0
71

नई दिल्ली : देश भर के उच्च शिक्षा संस्थानों में आईआईटी-मद्रास को नंबर वन का दर्जा दिया गया है। यह लगातार तीसरी बार समग्र रैंकिंग और इंजीनियरिंग में शीर्ष पर रहा। केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने गुरुवार को वर्ष 2021 के लिए उच्च शिक्षा संस्थानों के प्रदर्शन का मूल्यांकन करने वाले राष्ट्रीय संस्थागत रैंकिंग फ्रेमवर्क (एनआईआरएफ) द्वारा संकलित रैंकों की सूची जारी की।

“”: एपी, तेलंगाना शैक्षणिक संस्थान शीर्ष -100 में, “”: ——
ओवरऑल कैटेगरी में आईआईटी-मद्रास ने पहला, इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस-बैंगलोर ने दूसरा और आईआईटी-बॉम्बे ने तीसरा स्थान हासिल किया। एपी और तेलंगाना में कई उच्च शिक्षा संस्थानों ने समग्र शीर्ष -100 श्रेणी में स्थान हासिल किया है। IIT-हैदराबाद को 16वां और हैदराबाद यूनिवर्सिटी को 17वां स्थान मिला है। IIT-हैदराबाद पिछले साल 17वें स्थान पर था और अब उसने एक स्थान सुधार किया है। हैदराबाद विश्वविद्यालय पिछले साल 15वें स्थान पर था लेकिन अब दो स्थान पीछे है। आंध्र विश्वविद्यालय को 48वां, एनआईटी-वारंगल को 59वां और उस्मानिया विश्वविद्यालय को 62वां स्थान मिला है। ये विश्वविद्यालय पिछले साल के रैंक की तुलना में पिछड़ रहे हैं। कोनेरू लक्ष्मैया एजुकेशन फाउंडेशन यूनिवर्सिटी (केएल कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग) को 69वां और एसयूवी को 92वां स्थान मिला है।

विश्वविद्यालय श्रेणियों में एचसीयू नौवें स्थान पर, “”:—–
भारतीय विज्ञान संस्थान-बैंगलोर विश्वविद्यालय श्रेणी में सूची में सबसे ऊपर है। हैदराबाद सेंट्रल यूनिवर्सिटी को 9वां स्थान दिया गया और शीर्ष -10 में स्थान दिया गया। आंध्र प्रदेश में आंध्र विश्वविद्यालय 24वें स्थान पर है। उस्मानिया यूनिवर्सिटी को 32वां, कोनेरू लक्ष्मण एजुकेशन फाउंडेशन को 35वां, एसयूयू को 54वां, गांधी इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी एंड मैनेजमेंट को 67वां, ट्रिपल आईटी-हैदराबाद को 83वां, साइंस फाउंडेशन फॉर साइंस, टेक्नोलॉजी, रिसर्च को 97वां स्थान मिला है।

वेंकट, एकबार रिपोर्टर,