बजाज फाइनेंस का एसेट अंडर मैनेजमेंट चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में 32 फ़ीसदी बढ़कर 2.7 लाख करोड़ रुपए पर पहुंच गया है.

0
45

बजाज फाइनेंस का एसेट अंडर मैनेजमेंट चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में 32 फ़ीसदी बढ़कर 2.7 लाख करोड़ रुपए पर पहुंच गया है.
नई दिल्ली: शेयर बाजार में निवेश कर कमाई करना कौन नहीं चाहता. अगर आप भी शेयरों में निवेश से कमाई करना चाहते हैं तो हम आपको बता रहे हैं कि मंगलवार के कारोबार में किन शेयरों में तेजी दर्ज की जा सकती है और उसकी वजह क्या है. मेटल, ऑयल एवं गैस सेक्टर के शेयरों में लिवाली से घरेलू शेयर बाजार (Indian Stock Market) में सोमवार को बढ़त के साथ बंद हुए. बीएसई सेंसेक्स (BSE Sensex) 486.49 अंक यानी 0.75 फीसदी की तेजी के साथ 65,205.05 अंक के स्तर पर बंद हुआ.

बीएसई सेंसेक्स पहली बार 65000 अंक के ऊपर बंद हुआ. इसी तरह एनएसई निफ्टी (NSE Nifty) 133.50 अंक यानी 0.7% के उछाल के साथ 19,322.55 अंक के स्तर पर बंद हुआ.

सिंगापुर एक्सचेंज में निफ्टी फ्यूचर्स 4 अंक की तेजी पर कामकाज कर रहा था. सिंगापुर एक्सचेंज में निफ्टी फ्यूचर्स मंगलवार सुबह के कारोबार में 19,443 के लेवल पर कामकाज कर रहा था. इससे संकेत मिलते हैं कि घरेलू शेयर बाजार में कामकाज की शुरुआत सामान्य रूप से हो सकती है. आज के कारोबार में कई ऐसे शेयर हैं जिन पर निवेशकों और ट्रेडर की नजर बनी रहेगी, हम आपको इन सभी शेयरों के बारे में विस्तार से बता रहे हैं.

IDFC First Bank
आईडीएफसी फर्स्ट बैंक के बोर्ड ने आईडीएफसी लिमिटेड और आईडीएफसी फाइनेंसियल होल्डिंग कंपनी के मर्जर को मंजूरी दे दी है.

IndusInd Bank
इंडसइंड बैंक के प्रमोटर इंडसइंड इंटरनेशनल बोर्ड की योजना 1.5 अरब डॉलर की पूंजी जुटाने की है. बैंक में हिस्सेदारी बढ़ाने और अन्य रणनीतिक उद्देश्यों के लिए यह पूंजी जुटाई जाएगी.

Reliance Industries
रिलायंस इंडस्ट्रीज की जियो ने जियो भारत फोन लॉन्च करने की योजना बनाई है. यह भारत में मौजूद 25 करोड़ फीचर फोन को इंटरनेट इनेबल्ड फोन बना देगी. जियो भारत फोन के लिए पहले 10 लाख फीचर फोन को इंटरनेट इनेबल फोन बनाने का बीटा ट्रायल 7 जुलाई से शुरू हो रहा है.

Bajaj Finance
मेटल और माइनिंग कारोबार की दिग्गज कंपनी वेदांता की लांजीगढ़ रिफाइनरी में एलुमिना प्रोडक्शन साल दर साल आधार पर 18 फ़ीसदी और तिमाही आधार पर चार फीसदी गिरा है. कास्ट मेटल अल्मुनियम प्रोडक्शन साल दर साल आधार पर 2 फ़ीसदी बढ़कर 597 केटी पहुंच गया है.

Vedanta
बजाज फाइनेंस का एसेट अंडर मैनेजमेंट चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में 32 फ़ीसदी बढ़कर 2.7 लाख करोड़ रुपए पर पहुंच गया है. बजाज फाइनेंस के लिए चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही एसेट अंडर मैनेजमेंट की वृद्धि के लिहाज से शानदार रही है पहली तिमाही में ₹22700 की वृद्धि हुई है