Tanhaji: सैफ अली खान बोले, फिल्म में सही इतिहास नहीं दिखाया गया, पॉलिटिकल नैरेटिव बदला गया

0
128

नई दिल्ली । बॉलीवुड एक्टर अजय देवगन और सैफ अली खान स्टारर फिल्म ‘तानाजी- द अनसंग वॉरियर’ बॉक्स ऑफिस पर शानदार प्रदर्शन कर रही हैं। वहीं, लोग फिल्म में अजय और सैफ के किरदार को काफी पसंद भी कर रहे हैं। हालांकि, सैफ अली खान ने फिल्म में इतिहास से छेड़छाड़ का आरोप लगाया है और इसे खतरनाक बताया है। सैफ अली खान के इस आरोप के बाद फिल्म फिर सुर्खियों में आ गई है।

दरअसल, सैफ ने अनुपमा चोपड़ा को दिए गए एक इंटरव्यू में फिल्म के किरदार को लेकर कहा कि उदयभान राठौर का किरदार बहुत आकर्षक लगा था, इसलिए वो छोड़ नहीं पाए, लेकिन इसमें पॉलिटिकल नैरेटिव बदला गया है और वो खतरनाक है। साथ ही सैफ ने यह भी माना, ‘कुछ वजहों से मैं कोई स्टैंड नहीं ले पाया, शायद अगली बार ऐसा करूं। मैं इस किरदार को लेकर बहुत उत्साहित था क्योंकि मुझे बहुत ही आकर्षक लगा था। लेकिन यह कोई इतिहास नहीं है। इतिहास क्या है इसके बारे में मुझे बखूबी पता है।’

इसके अलावा भी सैफ अली खान ने कई फिल्म से जुड़े कई मुद्दों पर बात की और फिल्म में पॉलिटिकल नेरेटिव बदलने की बदलने की बात कबूली। इस दौरान फिल्म के इतिहास को लेकर सैफ ने कहा, ‘मेरा मानना है कि इंडिया की अवधारणा अंग्रेजों ने दी और शायद इससे पहले नहीं थी। इस फिल्म में कोई ऐतिहासिक तथ्य नहीं है। हम इसे लेकर कोई तर्क नहीं दे सकते। लेकिन यह सच्चाई है।’

आपको बता दें कि फिल्म में वे निगेटिव शेड के रोल में नजर आए थे और उनका इंपैक्ट इतना तगड़ा था कि इसकी तुलना पद्मावत फिल्म के अलाउद्दीन खिलजी के किरदार से की गई। साथ ही सैफ अली खान ने देश के वर्तमान माहौल को लेकर कहा कि जिस तरह से देश आगे बढ़ रहा है उससे ये तो साफ है कि देश से सेक्युलरिजम का नामो निशान भी मिट जाएगा।