विदेश में भी है रानू मंडल जैसी सिंगर, गोद में बच्चे को लेकर सड़कों पर गाती हैं गाना

0
138

गाना गाकर पेट पालने वाली रानू मंडल (Ranu Mondal) के स्टार बनने तक की कहानी से तो अब तक आप वाकिफ हो गए होंगे. रानू का कहानी शुरू हुई थी एक वायरल वीडियो से, वो रेलवे स्टेशन के एक कोने में बैठकर ‘एक प्यार का नगमा’ गा रही थीं. तभी अतींद्र चक्रवर्ती नाम के एक शख्स ने उनका वीडियो बनाकर फेसबुक पर शेयर कर दिया था. इसी वीडियो से रानू रातों-रात स्टार बन गई थीं. वहीं रानू की ही तरह एक विदेशी महिला का भी वीडियो इंटरनेट पर खूब वायरल हो रहा है. ये महिला रानू के जैसे सड़कों पर गाकर भीख मांग रही है. वो अपने बच्चे को गोद में लिए हुए नजर आ रही है.

इस महिला का वीडियो UNHCR, the UN Refugee Agency के ऑफिशियल फेसबुक पेज पर शेयर किया गया है. इस वीडियो के कैप्शन में लिखा है- ‘विनीज़वीलियन मां पेरू की गलियों में गाती हुई’. इस वीडियो में बताया गया है कि ये महिला पेरू की गलियों में हर रोज 2 घंटों तक अपने बच्चे को गोद में लेकर गाना गाती है. इस उम्मीद में कि वहां से गुजरने वाले लोग उसे गाने के बदले में कुछ पैसे दे देंगे. ये महिला अपनी गोद में 9 महीने के बच्चे को लिए हुए है. गाने के बीच-बीच में वो अपने बच्चे को दुलार करती भी दिखाई देती है. यहां देखें इस महिला का वीडियो-

इस महिला के पास एक माइक रखा दिख रहा और उसने पैसे इकट्ठे करने के लिए एक बॉक्स रखा हुआ है. इस वीडियो के कमेंट बॉक्स में देखें तो रानू मंडल की ही तरह लोग इस महिला की आवाज की तारीफ कर रहे हैं और इसके साथ ही उसके जज्बे को भी सलाम कर रहे हैं. इस महिला की आवाज को लोग जादुई बता रहे हैं. हालांकि दुख की बात ये है कि इस महिला को अपने साथ-साथ बच्चे का भी पेट पालना है. अब देखने वाली बात ये होगी कि इंटरनेट पर वायरल हो रहे इस वीडियो के जरिए क्या इस महिला को भी रानू की तरह प्रोफेशनल तौर पर गाने का मौका मिलेगा या नहीं?

बात करें रानू मंडल की तो हिमेश रेशमिया उन्हें बॉलीवुड में बतौर प्लेबैक सिंगर लॉन्च कर चुके हैं. रानू , हिमेश के साथ एक नहीं बल्कि तीन-तीन गाने गा चुकी हैं. रानू के हर गाने को खूब पसंद किया गया है. रानू को लोग इतना सपोर्ट कर रहे हैं कि स्वर कोकिला लता मंगेशकर को भी लोगों ने तब जवाब दे दिया जब उन्होंने रानू को नकल ना करने की सलाह दी. हिमेश रेशमिया तो यहां तक कह चुके हैं कि रानू का सुपरस्टार बनने से कोई नहीं रोक सकता.