जैकलीन फर्नांडीज को मिली सलाह, करियर बनाना है तो बदलो नाम और कराओ नाक की सर्जरी

0
153

नई दिल्‍ली. जैकलीन फर्नांडीज (Jacqueline Fernandez) ने 2006 में ‘मिस यूनिवर्स श्रीलंका’ (Miss Universe Sri Lanka) का खिताब जीता था और इसी खिताब के बाद श्रीलंका की ये ब्‍यूटी क्‍वीन बॉलीवुड में अपनी किस्‍मत आजमाने आई. लेकिन बॉलीवुड में अपना नाम बनाने लिए जैकलीन को कई तरह की सलाह मिलीं जिनमें कई लोगों ने उनका नाम बदलने से लेकर उन्‍हें अपनी नाक की सर्जरी (Nose Job) कराने तक कई सलाह दीं. इस बात का खुलासा जैकलीन ने अपने एक हालिया इंटरव्‍यू में किया है, जिसमें उन्‍होंने बताया कि उन्‍हें हिंदी फिल्‍मों का हिस्‍सा बनने के लिए कई तरह की सलाह मिली थीं. जैकलीन ने बताया कि कैसे उनसे एक एक्‍ट्रेस होने की वजह से दोगुना किराया वसूल किया जाता था.

पिंकविला को दिए इंटरव्‍यू में जैकलीन से पूछा गया कि एक दूसरे देश में आकर अपना करियर बनाने की इस कोशिश में आपको शुरुआत में कितनी मुश्किलों का सामना करना पड़ा. जैकलीन ने कहा, ‘जब मैं शुरुआत में आई थी तो मुझे इस बात की बिलकुल फिक्र नहीं थी कि मुझे कैसे करना है क्‍योंकि मैं इस बात को लेकर संतुष्‍ट थी कि मुझे अपनी असलियत के साथ रहना है. मैं जैसी हूं मुझे वैसा ही रहना है. मुझे यहां आने के बाद कई लोगों ने सलाह दी कि अपनी नाक की सर्जरी कराओ, अपना नाम बदल लो.. लेकिन मैं हमेशा खुद से सवाल पूछती थी कि क्‍या सच में इस सब की जरूरत है. मैं काफी शांत और रिलैक्‍स थी. लेकिन मजेदार बात है कि अब, जब मैं एक मुकाम पा चुकी हूं, मुझे एक हद तक सफलता मिल चुकी है, तो अब मैं इस बात को लेकर टेंशन में रहती हूं कि इसे बनाए रखने के लिए मुझे क्‍या करना चाहिए.’

जैकलीन ने कहा, ‘मुझे कहा गया था अपना नाम ‘मुस्‍कान’ रख लो. मेरी एजेंसी ने भी कहा कि आपका नाम बहुत वेस्‍टर्न है, इसके साथ यहां कैसे काम चलेगा. किसी ने मुझसे कहा था अपनी आइब्रो को और भी डार्क कर लो.. ऐसी कई अजीब सी चीजें मुझसे कही गईं. नाक की सर्जरी की बात सुनकर मुझे काफी हंसी आई थी क्‍योंकि यही एक ऐसा फीचर था कि जिसे देखकर मुझे लगता था कि ये बहुत अच्‍छा है. मेरी नाक बहुत अच्‍छी है.’

जैकलीन ने यहां ये भी बताया कि कैसे उनके विदेश एक्‍सेंट का फिल्‍म इंडस्‍ट्री के लोगों ने मजाक उड़ाया. जैकलीन ने कहा, ‘अब भी ऐसे लोग हैं जिन्‍हें मेरे एक्‍सेंट से समस्‍या है. मैं भी सीखना चाहती हूं लेकिन ये भी सच है कि मैं यहां से नहीं हूं. मैं कभी भी उस तरीके से हिंदी नहीं बोल सकती जैसे सोनाक्षी (सिन्‍हा) बोलती है. मैं जानती हूं कि ये मेरी लिमिटेशन है, लेकिन इससे मेरी कोशिश कभी रुकी नहीं.’

जैकलीन ने आगे बताया, ‘एक बार मेरे साथ हुआ था जब मुझे बहुत बुरा लगा था. एक दिवाली पार्टी थी जिसमें मैं भारतीय पारंपरिक कपड़ों में थी. तब मेरे तीन एक्‍टर दोस्‍तों ने मुझे देखकर कहा, ‘तुम इतनी कोशिश क्‍यों कर रही हो, तुम इंडियन नहीं हो.’ ये सुनकर मुझे बहुत बुरा लगा था.