IT की छापेमारी के बीच स्वरा भास्कर ने की तापसी पन्नू और अनुराग कश्यप की तारीफ, कहा- ‘बहादुर दिल वाले…’

0
106

नई दिल्ली। अभिनेत्री तापसी पन्नू, निर्माता-निर्देशक अनुराग कश्यप और विकास बहल के खिलाफ बुधवार को आयकर विभाग ने छापेमारी की। विभाग की कई टीमों ने मुंबई और पुणे में लगभग 30 लोकेशंस पर छापेमारी की। आयकर विभाग ने यह छापेमारी फैंटम फिल्म्स पर कर चोरी के आरोप को लेकर की। फैंटम फिल्म्स अनुराग कश्यप की निर्माण कंपनी है। आयकर विभाग की इस कार्रवाई पर देश की कई हस्तियां अपनी प्रतिक्रिया दे रही हैं।

विपक्षी पार्टियां और कई नेताओं ने तापसी पन्नू,अनुराग कश्यप और विकास बहल के खिलाफ आयकर विभाग की छापेमारी की निंदा की है। कई फिल्मी सितारे भी आयकर विभाग की इस छापेमारी की आलोचना कर रहे हैं। उनमें बॉलीवुड अभिनेत्री स्वरा भास्कर भी हैं। स्वरा भास्कर सामाजिक और राजनीतिक मुद्दों पर खुलकर बोलने के लिए जानी जाती हैं। आयकर विभाग की छापेमारी के बीच उन्होंने तापसी पन्नू और अनुराग कश्यप की सोशल मीडिया में तारीफ की है।

स्वरा भास्कर सोशल मीडिया पर काफी सक्रिय रहती हैं। उन्होंने तापसी पन्नू और अनुराग कश्यप की तारीफ में दो अलग-अलग ट्वीट किए हैं। स्वरा भास्कर ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट तापसी पन्नू के लिए लिखा, ‘तापसी पन्नू के लिए सराहनीय ट्वीट जो साहस और दृढ़ विश्वास के साथ एक अद्भुत लड़की है यह चीज अब बहुत कम देखने को मिलती हैं, मजबूत योद्धा खड़े हो जाओ!

वहीं स्वरा भास्कर ने अनुराग कश्यप की तारीफ में अपने ट्वीट में लिखा, ‘अनुराग कश्यप के लिए सराहनीय ट्वीट जो एक सिनेमाई ट्रेलब्लेजर, एक शिक्षक, प्रतिभा के संरक्षक और एक व्यक्ति के साथ है, जो दुर्लभ निर्मल और बहादुर दिल वाले हैं! आपके लिए और अधिक शक्ति।’ तापसी पन्नू और अनुराग कश्यप के लिए किया स्वरा भास्कर यह ट्वीट तेजी से वायरल हो रहा है।

इन तीनों कलाकारों के फैंस भी उनके इस ट्वीट पर अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं। आपको बता दें कि तापसी पन्नू, अनुराग कश्यप और विकास बहल के खिलाफ आयकर विभाग की छापेमारी की अन्य हस्तियों ने भी आलोचना की है। समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार, इन फिल्ममेकर्स के अलावा टैलेंट मैनेजमेंट कंपनी क्वान और रिलायंस एंटरटेनमेंट ग्रुप के सीईओ शिवाशीष सरकार के यहां भी आयकर विभाग ने छापा मारा। इन सबके बीच हुए ट्रांजेक्शंस आयकर विभाग के रडार पर थे और कर चोरी के आरोपों में सबूत इकट्ठा करने के उद्देश्य से छापामारी की गयी।