अभिनव कोहली को आ रही है बेटे रियांश की याद, श्वेता तिवारी पर साधा निशाना

0
94

अभिनव का कहना है कि श्वेता तिवारी ने ही उन्हें उनके बेटे रियांश से अलग किया हुआ है। इसके अलावा अभिनव श्वेता तिवारी की बेटी पलक तिवारी को लेकर भी कई पोस्ट शेयर करते रहते हैं। टीवी एक्ट्रेस श्वेता तिवारी और अभिनव कोहली की शादी की कॉन्ट्रोवर्सी कुछ दिनों से चर्चा में है। हाल ही में अभिनव कोहली ने एक पोस्ट शेयर की, जिसमें उन्होंने लिखा कि बेटे रियांश को वह बहुत मिस कर रहे हैं। अभिनव कोहली इंस्टाग्राम के सहारे से अपनी पर्सनल लाइफ के बारे में अपडेट्स दे रहे हैं। श्वेता तिवारी पर आरोप लगा रहे हैं। पोस्ट में अभिनव कोहली बेटे रियांश की फोटो शेयर कर लिखते हैं कि मैं तुम्हें बहुत मिस कर रहा हूं। एक महीना 23 दिन हो गए हैं तुमसे मिले। तुम्हारी मम्मी ने हमें अलग किया हुआ है। शब्दों में बयां नहीं कर सकता कि मैं तुम्हें चाहता हूं और भगवान की मर्जी रही तो तुम्हें जल्द ही अपने सीने से लगाऊंगा।

इससे पहले अभिनव ने श्वेता तिवारी पर आरोप लगाते हुए कहा था कि श्वेता ने लॉकडाउन के दौरान उन्हें अपने बेटे रियांश से मिलने नहीं दिया। उल्टा पुलिस को बुलाकर उन्हें घर से बाहर निकाला।

अभिनव ने कहा था कि 14 मई को श्वेता ने मुझे वीडियो कॉल किया। रियांश रो रहा था और वह मेरे से बात करना चाहता था। अचानक श्वेता कमरे से बाहर चली गईं और दरवाजा बंद कर दिया। रियांश काफी तेज चिल्लाया और उसने गुस्से में आकर आईपैड फेक दिया। मैं काफी चिंतित हुआ और ऐसे में मैं श्वेता के घर के लिए निकला। श्वेता ने पुलिस बुलाई और मुझे अपने घर से बाहर निकाल दिया। मेरी गलती क्या थी, मैं तो बस अपने बच्चे की चिंता कर रहा था, जिसके लिए मैं वहां गया था।

अभिनव ने आगे कहा था कि इन दो महीनों में मैं रियांश के कॉन्टैक्ट में रहा हूं, फोन और वीडियो कॉल के जरिए। और जब मैं 14 मई को उससे मिलने गया तो श्वेता ने पुलिस बुला ली और मुझे बाहर निकाल दिया। मैं पुलिस वालों से विनती कर रहा था कि वे मुझे अपने बेटे से एक बार मिलने दें। मैं उस दिन पुलिस स्टेशन में बैठकर तीन घंटे रोया। मैं खुद को बेबस महसूस कर रहा था, अपने बच्चे से मिल नहीं पाया था। पुलिस वालों ने कहा अरे कोहली साहब आप चुप हो जाओ आप मर्द होकर क्यों रो रहे हो। मैंने उनसे कहा कि मैं केवल अपने बेटे से मिलना चाहता हूं। मैंने कौन-सा जुर्म किया है जो मुझे यहां लेकर आए हो। 15 मई को मैं फिर श्वेता के घर गया क्योंकि मैं नहीं चाहता था कि मेरा बेटा यह देखकर बड़ा हो कि उसके पापा ने एक बार ट्राई तक नहीं किया। और उसकी मां काफी स्ट्रॉन्ग है जिसने पुलिस को बुलाकर मुझे बाहर निकलवा दिया। मैं उस दिन उसके साथ खेला। उस दिन के बाद से जब भी मैं रियांश से मिलने के लिए ट्राई करता हूं श्वेता बहाने बनाने लगती है। कभी कहती है वह सो रहा है, कभी कुछ कहती है और दरवाजा मेरे मुंह पर बंद कर देती है। घर के अंदर ही नहीं आने देती।