SBI अपने ग्राहकों को दे रहा है Virtual Card की सुविधा, कर सकेंगे सुरक्षित ट्रांजेक्शंस

0
166

नई दिल्ली : देश के सबसे बड़े कॉमर्शियल बैंक SBI अपने ग्राहकों को वर्चुअल कार्ड की सुविधा उपलब्ध कराता है। यह एक तरह का लिमिट डेबिट कार्ड होता है। भारतीय स्टेट बैंक के इंटरनेट बैंकिंग के इस्तेमाल के जरिए वर्चुअल कार्ड को क्रिएट किया जा सकता है और इसका इस्तेमाल ई-कॉमर्स लेनदेन के लिए किया जा सकता है। इसके अलावा इस वर्चुअल कार्ड का इस्तेमाल ऐसी ऑनलाइन दुकानों पर किया जा सकता है जो वीजा कार्ड एक्सेप्ट करते हैं।

SBI की वेबसाइट के मुताबिक वर्चुअल कार्ड की वैलि़डिटी 48 घंटे या ट्रांजैक्शन पूरी होने तक होती है। वर्चुअल कार्ड मोबाइल नंबर पर ओटीपी के जरिए वैलि़डेशन के बाद ही क्रिएट किया जा सकता है। आप किसी भी राशि का वर्चुअल कार्ड क्रिएट कर सकते हैं।

ऐसे में सवाल उठता है कि SBI Virtual Cards के फीचर्स क्या हैं :

1. SBI वर्चुअल कार्ड के इस्तेमाल से आपके एटीएम कार्ड एवं अकाउंट से जुड़े विवरण मर्चेंट तक नहीं पहुंचते हैं। ऐसे में आपकी जानकारियां धोखाधड़ी करने वालों और स्कैमर्स से बच जाते हैं।

2. नेट बैंकिंग के इस्तेमाल के जरिए एसबीआई ग्राहक आसानी से वर्चुअल कार्ड क्रिएट कर सकते हैं।

3. आप न्यूनतम 100 रुपये और अधिकतम 50 हजार रुपये का वर्चुअल कार्ड क्रिएट कर सकते हैं।

4. वीजा कार्ड एक्सेप्ट करने वाले किसी भी मर्चेंट से शॉपिंग के लिए आप वर्चुअल कार्ड का इस्तेमाल कर सकते हैं।

5. एक बार में एक ही ट्रांजैक्शन हो सकता है।

6. शॉपिंग के बाद ही अमाउंट आपके अकाउंट से डेबिट होता है।

ऐसे क्रिएट करें SBI Virtual Card

1. एसबीआई के ऑनलाइन बैंकिंग पर लॉगिन करें।

2. ई-कार्ड पर क्लिक करें।

3. जेनरेट वर्चुअल कार्ड पर क्लिक करें।

4. आप उस अकाउंट को सेलेक्ट करिए, जिससे आप पैसे ट्रांसफर करना चाहते हैं।

5. इसके अलावा आपको अमाउंट भी इंटर करना होगा।

6. इसके बाद टर्म्स एंड कंडिशन्स को एग्री करते हुए ‘Generate’ पर क्लिक कीजिए।

7. इसके बाद आपको कार्डहोल्डर का नाम, डेबिट कार्ड और अकाउंट नंबर तथा वर्चुअल कार्ड की लिमिट तय करनी होगी।

8. इसके बाद एसबीआई आपको ओटीपी भेजेगा।

9. आप ओटीपी डालकर कंफर्म बटन पर क्लिक कीजिए।

10. इसके बाद वर्चुअल कार्ड जेनरेट हो जाएगा। अब आप इसका इस्तेमाल ई-कॉमर्स से जुड़े लेनदेन के लिए कर सकते हैं।