आज से जारी किया जाएगा तेगा इंडस्ट्रीज के आइपीओ का रिफंड, जानें इससे जुड़ी पूरी डिटेल

0
66

नई दिल्ली। माइनिंग इंडस्‍ट्रीज में उपयोग होने वाली सामग्री का निर्माण करने वाली कंपनी तेगा इंडस्‍ट्रीज के शेयरों का अलॉटमेंट हो चुका है। कंपनी ने कल यानी कि, 8 दिसंबर को शेयरों के अलॉटमेंट की घोषणा की थी। कंपनी को निवेशकों से भारी मांग प्राप्त हुई थी, जिन्होंने आईपीओ को 219.04 गुना अधिक सब्सक्राइब किया था। जिन लोगों ने इसके आइपीओ में आवेदन किया था, और जिनको शेयर अलॉट नहीं हुआ है, उनको आज यानी कि, 9 दिसंबर से रिफंड जारी किया जाएगा। आईपीओ जारी होने के बाद, आवंटन प्राप्त करने वाले सभी आवेदकों को लिस्टिंग की तिथि पर उनके डीमैट खाते में हिस्सा प्राप्त होगा। बाकी जिन लोगों को शेयरों काआवंटन नहीं मिला है, उन्हें अधिदेश की समाप्ति तिथि को या उससे पहले अपना आईपीओ रिफंड प्राप्त हो जाएगा।

आम तौर पर जब इनवेस्टमेंट प्लेटफॉर्म पर शेयरों को निवेशकों के बैंक खाते में अनब्लॉक किया जाता है तो, उनको रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक मैसेज भी मिल जाता है। जिससे यह पता चलता है कि, किसी को शेयर का अलॉटमेंट मिला है या नहीं। अधिकतर लोगों को आइपीओ लेनदेन पूरा करते वक्त यूपीआइ आइडी के लिए भी रिक्वेस्ट प्राप्त होता होगा। यूपीआइ आइडी जमा करने के बाद, निवेशकों को एक वैधता अवधि प्राप्त होती है। निवेशक के खाते में ब्लॉक रकम आमतौर पर शेयर अलोकेशन के एक दिन बाद या वैधता अवधि के आखिरी दिन से पहले ही अनब्लॉक कर दी जाती है।

पिछले हफ्ते शुक्रवार को तेगा इंडस्‍ट्रीज के आइपीओ को इसके सब्सक्रिप्शन के आखिरी दिन काफी अच्छी प्रतिक्रिया मिली थी। पिछले हफ्ते शुक्रवार को सदस्यता के आखिरी दिन तेगा इंडस्‍ट्रीज को 219 गुना से अधिक बोलियां प्राप्त हुई थीं। इस दौरान गैर-संस्थागत निवेशकों की श्रेणी को 666.19 गुना, योग्य संस्थागत खरीदारों (क्यूआईबी) को 215.45 गुना और खुदरा निवेशकों (आरआईआई) को 29.44 गुना सब्सक्रिप्शन मिला था।

तेगा इंडस्‍ट्रीज ने अपने इस आइपीओ के जरिए 619.23 करोड़ रुपये जुटाने में सफलता प्राप्त की है। कंपनी ने शेयरों की बिक्री के लिए 443 से 453 रुपये का प्राइस रेंज तय किया गया था। लिस्टिंग से पहले, कंपनी का ग्रे मार्केट में 385 रुपये प्रति शेयर का प्रीमियम था, जो कि प्राइस बैंड की ऊपरी सीमा पर 85 फीसद तक है। तेगा इंडस्‍ट्रीज ने 14 एंकर निवेशकों से 186 करोड़ रुपये जुटाए, जिन्हें 453 रुपये प्रति शेयर के ऊपरी मूल्य बैंड पर 41,00,842 इक्विटी शेयर आवंटित किए गए थे।