भारत में एक फीसद अमीरों के पास है 70 फीसद आबादी की कुल संपत्ति के चार गुना के बराबर धन

0
128

भारत में लोगों की संपत्ति को लेकर आई एक रिपोर्ट के आंकड़े सुनकर आप चौंक सकते हैं। इस रिपोर्ट के अनुसार, देश के एक फीसद लोगों के पास भारत की 70 फीसद आबादी की कुल संपत्ति के चार गुना के बराबर पैसा है। वहीं, देश के 63 अमीरों के पास बजट से भी ज्यादा पैसा है। यहां आपको बता दें कि साल 2018-19 में देश का बजट 24 लाख 42 हजार 200 करोड़ रुपये था। ये आंकड़े दावोस में चल रहे वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम में ऑक्सफैम द्वारा अपनी रिपोर्ट ‘टाइम टू केयर’ में रखे गए हैं।

इस रिपोर्ट में कहा गया है कि दुनिया के 2153 अमीरों के पास विश्व की जनसंख्या के 60 फीसद (4.6 अरब लोगों) के मुकाबले ज्यादा धन है। रिपोर्ट में स्पष्ट रूप से यह कहा गया कि पूरी दुनिया में आर्थिक असमानता बड़ी तेजी से फैल रही है, क्योंकि अमीर बहुत तेजी के साथ ज्यादा अमीर हो रहे हैं। पिछले दस सालों में दुनिया में अरबपतियों की तादात में बड़ी तेजी आई है, हालांकि साल 2019 में इनकी कुल संपत्ति में गिरावट आई है।

वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम में ऑक्सफैम इंडिया के सीईओ अमिताभ बेहर ने भी इस संबंध में अपनी बात रखी। उन्होंने कहा कि अमीर और गरीब के बीच तेजी से बढ़ती यह खाई तब तक नहीं कम होगी, जब तक कि सरकार की तरफ से इस संबंध में कोई ठोस कदम नहीं उठाए जाते। बेहर ने कहा कि इस असमानता को कम करने के लिए सरकार को गरीबों के लिए विशेष नीतियां लेकर आनी होगी।

ऑक्सफैम की रिपोर्ट ‘टाइम टू केयर’ में लिंग असमानता का भी मुद्दा उठा है। रिपोर्ट में कहा गया कि एक महिला डमेस्टिक वर्कर को एक टेक कंपनी के CEO के बराबर कमाने में 22 हजार 277 साल लग जाएंगे। रिपोर्ट में बताया गया कि एक सीईओ एक सेकंड में ही 106 रुपये से अधिक कमा लेता है। वह 10 मिनट में जितना कमाएगा, उतना कमाने में एक महिला डमेस्टिक वर्कर को एक साल से भी अधिक का समय लग जाएगा।