Alphabet का M-Cap हुआ एक लाख करोड़ डॉलर का, बनी ऐसा करने वाली चौथी अमेरिकी कंपनी

0
155

सुंदर पिचाई की अगुवाई वाली गूगल की पैरेंट कंपनी अल्फाबेट ने एक लाख करोड़ डॉलर (एक ट्रिलियन डॉलर) के मार्केट कैप को छू लिया है। इस तरह अल्फाबेट एक लाख करोड़ डॉलर के मार्केट कैप को छूने वाली यूएस की चौथी कंपनी बन गई है। इन चार कंपनियों में बाकी तीन ऐपल, माइक्रोसॉफ्ट और ऐमजॉन है। कंपनी के नवनियुक्‍त CEO सुंदर पिचाई इस सफलता को लेकर काफी उत्‍साहित हैं।

गूगल की पैंरेंट कंपनी अल्फाबेट का शेयर गुरुवार को 1451.70 डॉलर के स्‍तर पर बंद हुआ था, जिससे अल्फाबेट का बाजार पूंजीकरण एक ट्रिलियन डॉलर पर पहुंच गया। एक लाख करोड़ डॉलर का मार्केट कैप प्राप्त करने वाली पहली अमेरिकी कंपनी ऐपल थी। कंपनी ने साल 2018 में इस मुकाम को प्राप्त किया था।

अल्‍फाबेट की फाउंडर लैरी पेज और सर्गी ब्र‍िन ने पिछले साल दिसंबर में कंपनी छोड़ने की घोषणा की थी और सुंदर पिचाई को गूगल और अल्‍फाबेट दोनों कंपनियां का CEO बनाया था। इससे पहले साल 2004 में पिचाई ने गूगल ज्‍वॉइन किया था। पिचाई ने गूगल टूलबार (Google Toolbar) और इसके बाद गूगल क्रॉम (Google Chrome) के विकास में महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाई। इसके बाद अब गूगल क्रॉम दुनिया का सबसे लोकप्रिय इंटरनेट ब्राउजर बन गया है।

बतौर सीईओ पिचाई के नेतृत्व में ही गूगल ने एआई (AI) द्वारा संचालित प्रोडक्ट्स और सर्विसेज के डेवलपमेंट पर फोकस किया। बता दें कि गूगल ने यह घोषणा की हुई है कि अगर सुंदर पिचाई अपने टारगेट को प्राप्त करते हैं, तो उन्‍हें तीन सालों में 24 करोड़ डॉलर कीमत के शेयर दिए जाएंगे। इसके अलावा उन्हें साल 2020 से 20 लाख डॉलर की सालाना सैलरी दी जाएगी।