टाटा की IT कंपनी TCS पर कोर्ट ने लगाया 2100 करोड़ का जुर्माना

0
66

वाशिंगटन. कोर्ट ने TCS पर चल रहे ट्रेड सीक्रेट चोरी मामले में निचली अदालत के फैसले को बरकरार रखा है. अमेरिका की फेडरल अपीलीय कोर्ट ने IT सेक्टर की दिग्गज कंपनी टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज को बड़ा दिया है. हालांकि, फेडरल अपील कोर्ट ने विस्कॉन्सिन की निचली अदालत द्वारा TCS पर लगाया गया जुर्माने को बहुत ज्यादा बताते हुए इसे निचली अदालत से कम करने के लिए कहा है. शुक्रवार को यह जानकारी TCS ने एक रेगुलेटरी फाइलिंग के दौरान शेयर मार्केट को दी.
अब क्या होगा- TCS ने कहा कि वह अन्य विकल्पों को तलाश रहा है, क्योंकि उसका मानना है कि कंपनी द्वारा Epic systems की Intellectual Property Rights का दुरुपयोग का कोई सबूत नहीं है.
TCS संबंधित अदालत के समक्ष अपनी स्थिति का पूरजोर तरीके से बचाव करेगी. Epic systems ने TCS पर intellectual property rights चोरी करके एक प्रोडक्ट बनाने का आरोप लगाया था.
इस मामले में कोर्ट ने पहले TCS पर 940 मिलियन डॉलर का जुर्माना लगाया, फिर वर्ष 2016 में इसे घटाकर 420 मिलियन डॉलर कर दिया था, जिनमें 14 करोड़ डॉलर का Compensatory Damages शामिल है. 2016 के इसी फैसले के खिलाफ TCS ने यूएस फेडरल अपील कोर्ट में याचिका दायर की थी
TCS ने कहा कि अपीलीय अदालत ने अमेरिकी हेल्थकेयर सॉप्टवेयर कंपनी एपिक सिस्टम्स के साथ बौद्धिक संपदा अधिकार मामले में उस पर लगाए गए 28 करोड़ डॉलर (करीब 2100 करोड़ रुपये) के जुर्माने को संवैधानिक रूप से अत्यधिक करार दिया और फैसला सुनाया कि कंपनी पर लगाए गए हर्जाने की रकम को कम किया जाए.