BSNL अपनी 14 संपत्तियों को बेचेगी, जुटाएगी इतने करोड़ रुपये

0
162

नई दिल्ली : सरकारी टेलीकॉम कंपनी BSNL ने प्रोपर्टी बेचकर पैसे जुटाने के प्लान के तहत 14 संपत्तियों की एक लिस्ट दीपम को भेजी है। इन संपत्तियों की कीमत 20,160 करोड़ रुपये आंकी गई है। सूत्रों के मुताबिक टेलीकॉम विभाग ने कौशल विकास मंत्रालय को एक भूखंड का ऑफर दिया है। न्यूज एजेंसी पीटीआइ की खबर के मुताबिक स्किल डेवलपमेंट मिनिस्ट्री एक भूखंड की तलाश में है, जिसको लेकर BSNL ने गाजियाबाद के अपने एक भूखंड की पेशकश की है। इस भूखंड का अनुमानित दाम 2,000 करोड़ रुपये बताया जा रहा है।

रिपोर्ट के मुताबिक BSNL के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक (CMD) पी.के.पुरवार ने कहा, ‘‘कंपनी अपनी प्रोपर्टीज को बेचकर पैसे जुटाने की हर तरह की कोशिश में लगी है। BSNL ने 14 ऐसी संपत्तियों को चिह्नित किया है। इन संपत्तियों से दीपम के माध्यम से 20 हजार करोड़ रुपये जुटाया जा सकता है।’’

बकौल पुरवार कंपनी की ये संपत्तियां मुंबई, तिरुवनंतपुरम, चेन्नई, गाजियाबाद सहित अन्य जगहों पर हैं। उल्लेखनीय है कि केंद्र सरकार ने इस साल अक्टूबर में BSNL और MTNL के पुनरोद्धार के लिए 69,000 करोड़ रुपये के पैकेज को मंजूरी दी थी। इस पैकेज में पिछले कई साल से घाटे में चल रही इन दोनों कंपनियों के विलय और उनकी संपत्ति को भुनाना जैसी योजनाएं शामिल हैं। इसी पैकेज के अंतर्गत कर्मचारियों के लिए स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना (वीआरएस) योजना लाई गई है।

सरकार दो साल के भीतर संयुक्त इकाई को मुनाफे में लाना चाहती है। BSNL और MTNL ने वीआरएस योजना शुरू कर दी है। इस योजना के तहत अब तक 92 हजार कर्मचारियों ने रिटायरमेंट के लिए आवेदन किया है। इससे भारी कर्ज में डूबी इन टेलीकॉम कंपनियों के वेतन मद में 8,800 करोड़ रुपये की बचत होने का अनुमान है।