सोना इस हफ्ते और चढ़ेगा, वैश्विक तनाव से निवेशकों को यही लगेगा सेफ

0
119

नई दिल्‍ली। 2020 के बाद से अंतरराष्‍ट्रीय बाजार में सोना (Gold Price today) उच्चतम स्तर पर है। रूस-यूक्रेन की लड़ाई को इसकी बड़ी वजह कहा जा सकता है। बाजार सहम गए हैं लेकिन लोगों का Gold में निवेश पर भरोसा बढ़ गया है। जबकि शेयर बाजार गिरावट का रुख देख रहे हैं। हालांकि ट्रेजरी में तेजी आई है। डॉलर के मजबूत होने के बावजूद सोने में लगभग दो साल में सबसे ज्यादा उछाल आया है।

2000 डॉलर प्रति औंस होगा सोना

जानकारों की मानें तो बुलियन हाल के हफ्तों में चढ़ गया है। इसका कारण पश्चिम के साथ मास्को का गतिरोध तेज होना है। इससे अमेरिकी फेडरल रिजर्व की नीति को कसने जैसे अन्य हेडविंड को ऑफसेट करने में मदद मिली है। जानकार उम्मीद करते हैं कि अगर संघर्ष आगे बढ़ता है तो आने वाले दिनों में सोने की कीमतें 2,000 डॉलर प्रति औंस हो जाएंगी। फिलहाल सोना हाजिर 3.4 प्रतिशत की तेजी के साथ 1,974.34 डॉलर प्रति औंस हो गया, जो सितंबर 2020 के बाद का उच्चतम स्तर है।

10 दिन में 1100 रुपये महंगा

IBJA पर दिए आंकड़ों के मुताबिक 10 दिन में सोना करीब 1100 रुपये प्रति 10 ग्राम महंगा हुआ है। 14 फरवरी को इसके रेट 49739 रुपये थे जो 25 फरवरी को 50868 रुपये प्रति 10 ग्राम हो गए। 24 फरवरी को जब रूस ने यूक्रेन पर हमला किया तो सोने की कीमत 51419 रुपये प्रति 10 ग्राम बोली गई थीं।

चांदी में भी 2000 रुपये का उछाल

IBJA के आंकड़ों के मुताबिक चांदी कीमत (Silver Price today) भी 17 फरवरी से 25 फरवरी के बीच करीब 2000 रुपये प्रति किलो उछली है। यह 63400 रुपये प्रति किलो से बढ़कर 65165 रुपये हो गई है। इस दौरान 18 फरवरी, 22 फरवरी और 24 फरवरी को इसमें ज्‍यादा उछाल दर्ज किया गया था। 24 फरवरी को रूस के ऐलान के बाद ही चांदी चढ़ना शुरू हो गई थी।