दिल्ली: लॉकडाउन के दौरान बच्चों और गरीबों के लिए सरकार ने लिया ये बड़ा फैसला

0
337

नई दिल्ली: देश की राजधानी के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) और उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodiya) ने सोमवार को प्रेस वार्ता में लॉकडाउन के दौरान लोगों को छात्रों को होने वाली परेशानियों को दूर करने के लिए कई बड़े निर्णय लिए. इस दौरान उन्होंने सरकारी राशन को बेचकर भागने वाले दुकानदार की तत्काल गिरफ्तारी के निर्देश भी दिए.

दरअसल, जनकपुरी के अंदर एक सरकारी राशन का कोटेदार है, जिसके पास पूरा राशन आया था. लेकिन 24 घंटे में ही उसने सारा राशन बेच दिया है और अपनी दुकान बंदकर वहां से फरार हो गया. इस संबंध में केजरीवाल ने उस व्यक्ति के गिरफ्तारी के आदेश दिए हैं. केजरीवाल ने सभी लोगों को सख्त निर्देश देते हुए कहा कि अगर राशन देने में किसी प्रकार की देरी या गड़बड़ी पाई गई तो आपको जेल में चक्की पीसनी पड़ेगी. मैं खुद यह सुनिश्चित करूंगा कि ऐसे लोगों को सख्त से सख्त सजा मिले.

वहीं लॉकडाउन के दौरान लोगों को राशन के लिए होने वाली परेशानी पर केजरीवाल ने कहा हमें कई जगहों से राशन कार्ड ना होने के कारण राशन मिलने में तकलीफ की सूचना मिली रही थी. जिसके बाद सरकार ने जिनके पास राशन कार्ड नहीं है, उन्हें भी राशन देने के फैसला किया है. उन्होंने बताया कि इस पर दिल्ली सरकार काम कर रही है, इसे लागू करने में तीन-चार दिन लगेंगे. जिन गरीबों के पास राशन कार्ड नहीं है, उनको भी हम राशन दिलवाने की व्यवस्था करेंगे.

12वीं कक्षा की प्रतिदिन दो क्लास होंगी ऑनलाइन:-
दिल्ली के उपमुख्यमंत्री व शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने बताया कि नर्सरी से 8वीं कक्षा तक के बच्चों को अगली कक्षा में बिना परीक्षा दिए प्रमोट किया जाएगा. जबकि 12वीं के छात्र-छात्राओं की प्रतिदिन दो विषय की ऑनलाइन कक्षाएं ली जाएंगी. इस दौरान नेट पैक या डेटा पैकेज का खर्च दिल्ली सरकार उठाएगी. उन्होंने बताया कि कुछ दिनों बाद 10वीं की ऑनलाइन कक्षाएं भी शुरू की जाएगी. सिसोदिया ने बताया कि ऑनलाइन क्लास अटेंड करने के लिए छात्रों को इंटरनेट प्लेटफार्म पर जाकर रजिस्ट्रेशन करना अनिवार्य होगा. उन्होंने बताय कि रिजस्टेशन के लिए प्रत्येक बच्चे के मोबाइल पर SMS के जरिए लिंक भेजाएगा. सिसोदियो ने बताया कि टीवी चैनल के माध्यम से भी हर कक्षा के लिए अगल-अगल क्लास शुरू करने की हम तैयारी कर रहे हैं.