ट्रंप के खिलाफ महाभियोग मामले में गवाही देने वाले विंडमैन की एनएससी से विदाई तय

0
141

वाशिंगटन : अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने शुक्रवार को कहा कि उनके खिलाफ महाभियोग मामले में गवाही देने वाले व्हाइट हाउस में यूक्रेन मामलों के विशेषज्ञ की विदाई हो सकती है। हालांकि, इस महाभियोग मामले में ट्रंप सीनेट से बरी हो गए थे।

सेना के लेफ्टिनेंट कर्नल एलेंक्जेंडर विंडमैन से ट्रंप खुश नहीं

राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद (एनएससी) से सेना के लेफ्टिनेंट कर्नल एलेंक्जेंडर विंडमैन को हटाए जाने की मीडिया में आ रही खबरों के बारे में पूछने पर ट्रंप ने संवाददाताओं से कहा, ‘मैं उनसे खुश नहीं हूं। आपको लगता है कि मुझे उनसे खुश होना चाहिए? वे वह फैसला लेने जा रहे हैं।’ स्थिति पर नजर रखने वाले एक सूत्र ने बताया कि विंडमैन को वापस रक्षा मंत्रालय में भेजा जा सकता है।

ट्रंप के खिलाफ महाभियोग मामले में विंडमैन ने प्रतिनिधि सभा में गवाही दी थी

गौरतलब है कि ट्रंप के खिलाफ महाभियोग मामले में विंडमैन ने पिछले साल नवंबर में संसद के निचले सदन डेमोक्रेट के बहुमत वाले प्रतिनिधि सभा में गवाही दी थी। उन्होंने कहा था कि ट्रंप ने यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंसी को जुलाई में फोन कर राष्ट्रपति पद के संभावित विरोधी प्रत्याशी जो विडेन के खिलाफ जांच शुरू करने को कहा था।

कांग्रेस उनके महाभियोग प्रक्रिया को हटाए

ट्रंप ने अमेरिकी संसद कांग्रेस से उनके खिलाफ चली महाभियोग की कार्यवाही को रिकॉर्ड से हटाने को कहा है। उन्होंने कहा कि उनके खिलाफ शिकायतें झूठी थीं, इसलिए संसद से महाभियोग की कार्यवाही को हटा दिया जाना चाहिए। उन्होने इसे अधिकारों का दुरुपयोग भी करार दिया। बता दें कि संसद के निचले सदन में ट्रंप के विरोधियों डेमोक्रेट का बहुमत है।

कोरोना से निपटने को 10 करोड़ डॉलर देने का प्रस्ताव

राष्ट्रपति ट्रंप ने कोरोना वायरस से लड़ रहे चीन समेत दुनिया के अन्य देशों को 10 करोड़ डॉलर (लगभग 700 करोड़ रुपये) की मदद का प्रस्ताव किया है। बता दें कि इससे पहले भी ट्रंप चीन को हर तरह की सहायता की पेशकश कर चुके हैं।