अफगानिस्तान में अमेरिकी सैन्य काफिले पर आत्‍मघाती हमला, तालिबान पर आशंका

0
186

काबुल : अफगानिस्‍तान की राजधानी काबूल में अमेरिकी सैन्‍य काफ‍िले को निशाना बनाया गया है। एक अफगान अधिकारी ने बताया कि काबूल के उत्‍तर में बगराम एयरबेस पर एक शक्तिशाली आत्‍मघाती बम विस्‍फोट किया गया। इस विस्‍फोट में अभी तक किसी के हताहत होने की खबर नहीं है। इस हमले में कई घरों को नुकसान हुआ है। किसी संगठन ने इस हमले की जिम्‍मेदारी नहीं ली है। हालांकि, आतंकवादियों ने हाल के दिनाें में काबुल को लगातार निशाना बनाया है। खास बात यह है अमेरिका के सैन्‍य काफ‍िले त‍ब हमला हुआ है जब अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने शांति प्रक्रिया को फ‍िर से बहाल किया है।

गौरतलब है कि अफगानिस्‍तान में अमेरिकी सैन्‍य काफ‍िले को ऐसे समय निशाना बनाया गया है, जब अमेरिकी राष्‍ट्रपति ट्रंप ने अफगानिस्‍तान शांति प्रक्रिया को दोबारा शुरू करने की पहल की है। इसके पूर्व ट्रंप ने शांति प्रक्रिया को रद कर दिया था। लेकिन सितंबर में इस प्रक्रिया को दोबारा शुरू करने की पहल की गई। अमेरिका ने इसके लिए कूटनीतिक प्रयास शुरू कर दिए हैं। इसके पूर्व आतंकवादी समूह ने सितंबर में काबुल में एक आत्मघाती हमले की जिम्मेदारी ली थी, जिसमें एक अमेरिकी सैनिक सहित 11 लोगों की मौत हो गई थी। इसके बाद ही अमेरिका ने तालिबान के साथ वार्ता रद करने का फैसला लिया था।

हाल में कहा गया कि तालिबान अफगानिस्तान में अपनी शर्तों पर युद्ध बंद करने के लिए तैयार है, इसके लिए उनकी ओर से अमेरिका को दो विकल्प भी दिए गए हैं। इसके तहत तालिबानी नेता ये कह रहे हैं कि यदि अमेरिका उनके खिलाफ अभियान रोक दें तो वो पूरी तरह से युद्ध बंद करने को तैयार हैं, दूसरा विकल्प ये है कि अमेरिका अफगानिस्तान में जिन जगहों से अपनी सेना को हटा लेगा वहां पर वो हमले नहीं करेंगे।

अब ये अमेरिका को तय करना है कि वो इन दोनों में से किस विकल्प पर विचार करता है या फिर वो अपनी बात पर अड़ा रहता है। इस बीच अमेरिकी सीनेटर लिंडसे ग्राहम ने कहा कि पाकिस्तान अगर अपने यहां तालिबान को पनाह देना बंद कर दे तो कुछ हफ्तों में ही अफगानिस्तान में जारी युद्ध समाप्त हो जाएगा।