जामिया उपद्रव की तुलना जलियांवाला हत्‍याकांड से करनेवाले उद्धव ठाकरे ने अब मुस्लिमों से की ये अपील

0
118

मुंबई । महाराष्‍ट्र के मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे दिल्‍ली के जामिया मिल्लिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी के छात्रों द्वारा नागरिकता संशोधन कानून(CAA) और नेशनल रजिस्‍टर ऑफ सिटिजन (NRC) के विरोध में हिंसक प्रदर्शन के बाद पुलिस कार्रवाई की जलियांवाला बाग हत्‍याकांड से तुलना कर चुके हैं। अब उद्धव ठाकरे ने मुस्लिम समुदाय से विरोध प्रदर्शन के दौरान कानून-व्‍यवस्‍था बनाए रखने की अपील की है।

उद्धव ठाकरे ने वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग के जरिए मुस्लिम समुदाय के प्रतिनिधियों से बात की। इस दौरान उन्‍होंने नागरिकता संशोधन कानून और एनआरसी के खिलाफ विरोध प्रदर्शन के दौरान कानून और व्यवस्था बनाए रखने का अनुरोध किया।

गौरतलब है कि उद्धव ठाकरे ने दिल्ली में सीएए के विरोध में जामिया मिल्लिया इस्लामिया में हुए उपद्रव की तुलना जलियांवाला बाग हत्‍याकांड से करते हुए कहा था कि जामिया में जो हुआ वो जलियांवाला बाग जैसा है, छात्र एक युवा बम की तरह है। हम केंद्र सरकार से अनुरोध करते हैं कि वे छात्रों के साथ ऐसा न करें। दिल्ली में सीएए के विरोध में जामिया मिल्लिया इस्लामिया में कई दिनों से विरोध प्रदर्शन हो रहा था, लेकिन रविवार को छात्रों के प्रदर्शन में स्थानीय लोगों के शामिल होने की वजह से स्थिति अनियंत्रित हो गयी, जिसने उग्र रूप धारण कर लिया। इसके बाद दिल्‍ली के कई अलग-अलग हिस्‍सों में भी विरोध प्रदर्शन हुआ।