शिवराज चौहान ने सिंधिया को बताया असली लीडर और हीरो, जानें क्‍यों कहा ऐसा

0
325

भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ पर निशाना साधते हुए उनकी सरकार को भ्रष्टाचार में लिप्‍त बताते हुए उसे उखाड़ फेंकने में मदद करने वालों को असली लीडर और हीरो बताया है। कांग्रेस छोड़ भाजपा का दामन थामने वाले ज्योतिरादित्य सिंधिया को उन्होंने हीरो बताते हुए कहा कि वे ऐसे नेता हैं जिन्होंने प्रदेश का हित सर्वोपरि रखा और भ्रष्ट सरकार से अपने साथियों के साथ किनारा कर लिया।

कांग्रेस और कमल नाथ पर तीखा हमला

रविवार को अलग-अलग ट्वीट के जरिए शिवराज चौहान ने कांग्रेस और कमल नाथ पर तीखा हमला बोला। उन्होंने यहां तक कहा कि पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार ने प्रदेश में त्राहि-त्राहि मचा दी थी। भ्रष्टाचार में लिप्त सरकार को उखाड़ फेंकने में मदद करने वाले ही असली लीडर, असली हीरो होते हैं। सरकार बनाने और चलाने के लिए प्रजा हित को सर्वोपरि रखना पड़ता है, लेकिन जो प्रदेश के मुखिया प्रजा को छोड़ एक परिवार की पूजा में लिप्त रहते हैं, वह कभी जनता की सरकार बना नहीं सकते और अगर गलती से बना भी लें तो ज्यादा दिन चला नहीं सकते। ये जो पब्लिक है, वह सब जानती है..।’

‘प्रदेश की उन्नति के लिए राजनीतिक कॅरियर दांव पर लगाया’

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘मैं अपने उन सभी साथियों का सम्मान करता हूं, जिन्होंने कमल नाथ की स्वकेंद्रित बंटाढार सरकार को गिराने के लिए और प्रदेश की उन्नति के लिए अपना राजनीतिक कॅरियर दांव पर लगा दिया। सभी पदों को त्याग दिया और अति कठोर निर्णय लिए और उस पर अडिग बने रहे।’

सेना की पहल की सराहना

शिवराज चौहान ने कोरोना योद्घाओं का मनोबल बढ़ाने के लिए सेना के तीनों अंग की रविवार को की गई पहल की सराहना की। उन्होंने कहा कि आकाश में अद्भुत नजारा था, यही दृढ़ता और उत्साह कोरोना को हराएगा। अभूतपूर्व प्रयासों का लाभ किसानों को मिलेगा और कोरोना संकट के दौर में उन्हें साहस देगा।

रोजगार के अवसर मिलेंगे

मुख्यमंत्री ने एक अन्य ट्वीट में कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अनूठे प्रयासों से एमएसएमई सेक्टर को नई ताकत और भारतीय अर्थव्यवस्था को तीव्र गति मिलेगी। देश के नागरिकों को रोजगार के नए अवसर प्राप्‍त होंगे और ‘जान के साथ जहान भी’ का ध्येय प्राप्‍त होगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि संकट की इस घड़ी में श्रमिक बहन-भाई जरा भी चिंता न करें। मैं आपके साथ पूरी ताकत के साथ खड़ा हूं। विभिन्न राज्यों से स्पेशल ट्रेन से आपको वापस लाने के लिए हम केंद्र सरकार और रेल मंत्रालय के साथ मिलकर प्रयास कर रहे हैं। आपका किराया भी प्रदेश सरकार वहन करेगी।