पीएम मोदी पर निशाना साधकर खुद घिरे राहुल गांधी, सीएसआइआर ने दिया ये जवाब

0
107

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधने के चक्कर में अक्सर खुद ही सवालों के घेरे में आने वाले पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी एक बार फिर ऐसी ही कोशिश करके घिर गए हैं। मोदी ने हाल ही में विंड टरबाइन के जरिये पेयजल और ऑक्सीजन भी बनाने का सुझाव दिया था, जिसका राहुल ने माखौल उड़ाया। इसके बाद न सिर्फ भाजपा ने बल्कि वैज्ञानिकों की संस्था काउंसिल ऑफ साइंटिफिक एंड इंडस्टि्रयल रिसर्च (सीएसआइआर) ने भी राहुल के ज्ञान पर संदेह जताया है।

सीएसआइआर ने ट्वीट कर कहा, ‘वातावरण से पानी बनाने का तरीका सुव्यवस्थित है और पेयजल उपलब्ध कराने के लिए हवा से पानी निकालने का काम जारी है। सीएसआइआर ने मैत्री एक्वाटेक के साथ सहमति पत्र पर हस्ताक्षर किए हैं और संयुक्त पेटेंट हासिल किया है। रेलवे स्टेशनों पर मेघदूत एडब्लूजी लगे हैं।’ सीएसआइआर ने अपने ट्वीट में प्रधानमंत्री कार्यालय, नरेंद्र मोदी और सरकार के प्रमुख वैज्ञानिक सलाहकार को भी टैग किया है। मालूम हो कि मेघदूत एडब्लूजी के जरिये हवा में मौजूद नमी को सोखकर पेयजल बनाया जाता है। सीएसआइआर ने हवा से पानी निकालने का तरीका समझाते हुए एक ग्राफिक्स भी साझा किया।

राहुल ने कहा था

दरअसल, राहुल ने ट्वीट कर कहा था, ‘असली खतरा यह नहीं है कि हमारे प्रधानमंत्री समझते नहीं है। सच तो यह है कि उनके आसपास के किसी शख्स में यह कहने की हिम्मत नहीं है।’ इसके साथ उन्होंने प्रधानमंत्री का एक विंड एनर्जी कंपनी के सीईओ के साथ बातचीत का वीडियो भी पोस्ट किया था। इसमें प्रधानमंत्री को यह सुझाव देते हुए सुना जा सकता है कि विंड टरबाइन का इस्तेमाल सिर्फ ऊर्जा का उत्पादन करने के लिए ही नहीं बल्कि सघन वायु से ऑक्सीजन और स्वच्छ पेयजल उत्पादित करने के लिए भी किया जाए।

राहुल की अज्ञानता पर सवाल

राहुल का ट्वीट आते ही केंद्रीय मंत्रियों और भाजपा नेताओं ने धड़ाधड़ ट्वीट कर राहुल की अज्ञानता को लेकर उन्हें घेरना शुरू कर दिया। उन्होंने सुबूत के तौर पर ऐसी रिपोर्टे भी साझा कीं जिनके मुताबिक हवा से पानी निकालना मुमकिन है।

मध्य प्रदेश के नेताओं का तंज

इससे पहले मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने राहुल गांधी पर तंज कसा था। दरअसल केंद्र सरकार द्वारा लाए गए कृषि कानूनों को लेकर प्रदर्शन कर रहे कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने निशाना साधा। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी को किसानी को लेकर कोई जानकारी नहीं होगी और वो ट्रैक्टर में बैठकर प्रदर्शन कर रहे हैं। बता दें कि कृषि कानूनों को लेकर कांग्रेस पार्टी लगातार प्रदर्शन कर रही है। कुछ दिन पहले राहुल गांधी ने कृषि कानूनों के विरोध में पंजाब में प्रदर्शन रैली निकाली थी। इस दौरान वो ट्रैक्टर पर बैठे नजर आए थे। राहुल गांधी की इस रैली को लेकर शिवराज ने कहा था कि राहुल ट्रैक्टर में सोफे पर बैठकर घूम रहे हैं। उनको किसानी के बारे में कुछ भी नहीं पता है। उनको तो यह भी नहीं पता होगा कि प्याज मिट्टी के अंदर उगती है या बाहर।

वहीं, मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने भी राहुल गांधी पर चुटकी ली थी। बता दें कि राहुल गांधी ने कहा था कि उनकी पार्टी कांग्रेस 15 मिनट से भी कम समय में चीन को भारत के क्षेत्र से बाहर निकाल देगी। उसपर मिश्रा ने कहा था कि इतनी अच्छी गुणवत्ता वाला नशा कहा से करते हो।