प्रधानमंत्री मोदी ने कहा- किसानों की मेहनत ने भारत को टॉप तीन में पहुंचाया

0
138

गांधीनगर । किसानों की मेहनत और सरकारी नीतियों के संयुक्त प्रयास ने ही कुछ अनाजों और खाद्य उत्पादों के मामले में भारत को टॉप तीन देशों में शामिल कराया है। मंगलवार को गुजरात में ग्लोबल पोटैटो कॉन्क्लेव को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यह बात कही।

किसानों की आय को दोगुना करने की दिशा में सरकार ने उठाए कदम

प्रधानमंत्री ने 2022 तक किसानों की आय को दोगुना करने की दिशा में सरकार की ओर से उठाए गए कदमों का भी जिक्र किया। सीधे किसानों के खाते में दो-दो हजार रुपये की तीन किस्तों में साल में कुछ छह हजार रुपये की सहायता को उन्होंने सरकार का बड़ा कदम बताया। मोदी ने कहा, ‘इस महीने की शुरुआत में छह करोड़ किसानों के बैंक खातों में 12 हजार करोड़ रुपये ट्रांसफर कर नया रिकॉर्ड बनाया गया।’

सीएम ने विदेश मंत्री से मांगी मदद, चीन में बसे गुजराती युवकों को लाने की कवायद

कोरोना वायरस के हमले के भय के बीच चीन में रह रहे करीब एक सौ युवकों से गुजरात सरकार ने संपर्क साधा है, उनमें से कोई भारत लौटना चाहेगा तो केंद्र व राज्‍य सरकार मदद को तैयार है। मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने विदेश मंत्री जयशंकर से भी इस संबंध में चर्चा की, उन्‍होंने संपूर्ण मदद का भरोसा दिया है।

चीन में रह रहे गुजरातियों को भारत लाया जाएगा

गुजरात के मुख्‍यमंत्री विजय रुपाणी ने कहा है कि चीन से मंगलवार व बुधवार को दो जहाज भारत आएंगे जिनमें चीन में रह रहे गुजराती युवक युवतियों को भारत लाया जाएगा। चीन में कोरोना वायरस से भय से कई लोग चीन छोड रहे हैं, ऐसे में वहां बसे करीब एक सौ युवक भी भारत लौटना चाहते हैं तो उन्‍हें लानेकी सभी व्‍यवस्‍था केंद्र व गुजरात सरकार ने की है।

चीन से आने वालों की मेडिकल जांच के इंतजाम एयरपोर्ट पर

रुपाणी ने कहा कि मंगलवार व बुधवार को एक-एक हवाई जहाज चीन से भारत आएगा, चीन से आने वाले युवकों की मेडिकल जांच के इंतजाम भी अहमदाबाद सरदार पटेल एयरपोर्ट पर किया जाएगा ताकि किसी के कोरोना वायरस से संक्रमित होने पर यहां संक्रमण फैलने से रोका जा सके।

सूचना एकत्र करने के निर्देश

मुख्यमंत्री रुपाणी ने राज्य के मुख्य सचिव अनिल मुकीम से चर्चा कर युवकों के प्रदेश में बसे परिजनों से सूचना एकत्र करने के भी निर्देश दिए हैं। गुजरात आपदा प्रबंधन प्राधिकरण राज्य के विविध शहरों में बसे इन युवकों के परिजनों से संपर्क कर उनकी जानकारी जुटाएगा ताकि उनका हरसंभव मदद की जा सके।