11th डिफेंस एक्सपो: पीएम मोदी आज करेंगे उद्घाटन, पूरी दुनिया देखेगी भारतीय सेना का शौर्य

0
152

लखनऊ: शहर में बुधवार से शुरू हो रहे डिफेंस एक्सपो के 11वें संस्करण का उद्घाटन पीएम नरेंद्र मोदी करेंगे. एक्सपो में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत 35 देशों के रक्षा मंत्री 54 देशों के सैन्य प्रमुख और विश्व भर के हथियार निर्माता कंपनियों के उद्योगपति भी मौजूद रहेंगे. यह मेगा शो पांच दिन तक चलेगा. एक्सपो में रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन(डीआरडीओ) के विकसित रणनीतिक और सामरिक हथियार प्रणालियों, रक्षा उपकरणों और तकनीक का पांच फरवरी से नौ फरवरी तक प्रदर्शन किया जाएगा. एक्सपो में स्वदेशी हथियार की धूम रहेगी. हथियारों के सबसे बड़े मेले में देश के कई बड़े रक्षा उत्पाद भी नजर आएंगे.

एक्सपो पर आतंकी हमले का साया
एक्सपो में 11 आतंकी संगठनों द्वारा विघ्न डालने का इनपुट मिलने के बाद प्रशासन और सुरक्षा एजेंसियों को हाई अलर्ट जारी कर दिया गया. खुफिया एजेंसियों ने इन आतंकी संगठनों का नेपाल के रास्ते मे भारत मे घुसने का इनपुट दिया है जिसके बाद से भारत नेपाल बॉर्डर पर भी हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है. साथ ही आयोजन स्थल के आसपास और भीड़-भाड़ वाले इलाके में पुलिस और आरएएफ जवानों द्वारा फ्लैग मार्च किया जा रहा है.

तोप से लेकर तेजस जेट तक का प्रदर्शन
रक्षा मंत्रालय से मिली जानकारी के अनुसार, “लखनऊ में पहली बार होने जा रहे डिफेंस एक्सपो में करीब एक हजार कंपनियां अपने हथियार, रक्षा उपकरण और तकनीक का प्रदर्शन करेंगी.” इस मेले में भारत में बने धनुष तोप से लेकर तेजस जेट तक का प्रदर्शन किया जाएगा. इसके साथ ही इसमें दुनिया भर की दिग्गज कंपनियां अपनी सैन्य तकनीक का प्रदर्शन करके भारतीय सेनाओं को खरीद के लिए रिझाने की कोशिश करेंगीं.

डिफेंस एक्सपो में भारत तथा विदेश की छोटी-बड़ी कंपनियां भी हथियारों का प्रदर्शन करने को तैयार हैं. इसके अलावा डीआरडीओ सहित देश के लिए रक्षा उत्पाद बनाने और रिसर्च करने वाली एजेंसियां और कंपनियां स्वदेशी का गौरव बढ़ाते हुए अपने हथियार का प्रदर्शन करेंगी.

इस दौरान आठ प्रौद्योगिकी समूह- एरोनॉटिकल सिस्टम्स, आर्मामेंट एंड कॉम्बैट इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रॉनिक्स और कम्युनिकेशन सिस्टम्स, लाइफ साइंसेज, माइक्रो इलेक्ट्रॉनिक डिवाइसेस एंड कम्प्यूटेशनल सिस्टम्स मिसाइल और स्ट्रैटजिक सिस्टम्स से लेकर नौसेना प्रणाली और मटेरियल और सिस्टम विश्लेषण व मॉडलिंग का कौशल दिखेगा.

थल सेना के हथियारों में पिनाका मल्टी बैरल रॉकेट लॉन्चर और धनुष तोप के अलावा इंटीग्रेटेड मल्टीफंक्शन साइट, स्मॉल आर्म्स एडवांस्ड होलोग्राफिक साइट, आई सेफ लेजर, नाइट विजन डिवाइसेज, बॉर्डर सर्विलांस सिस्टम, लेजर ऑर्डिनेंस डिस्पोजल सिस्टम, लेजर डैजलर्स का भी प्रदर्शन होगा.