पीएम मोदी रीवा में आयोजित पंचायती राज सम्मेलन कार्यक्रम में हुए शामिल, मोदी ने की शिवराज की तारीफ

0
106

पीएम मोदी सोमवार को रीवा में आयोजित पंचायती राज सम्मेलन कार्यक्रम में शामिल हुए, जहां उन्होंने 2300 करोड़ के रेल प्रोजेक्ट्स और 7853 करोड़ रुपये की नल-जल योजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण किया।

कांग्रेस ने गांवों को नजरअंदाज किया, भाजपा ने विकास के लिए तिजोरी खोली
पीएम ने कहा कि पहले की सरकारें गांव के लिए पैसे खर्च करने से बचती थी, क्योंकि गांव अपने आप में कोई वोट बैंक तो था ही नहीं। इसलिए उन्हें नजरअंदाज किया जाता था। गांव के लोगों को बांटकर कई राजनीतिक दल अपनी दुकान चला रहे थे। भाजपा ने गांवों के साथ हो रहे इस अन्याय को भी समाप्त कर दिया है। हमारी सरकार ने गांवों के विकास के लिए तिजोरी खोल दी है।

40 करोड़ से ज्यादा ग्रामीणों के खाते खोले
पीएम ने देशवासियों को संबोधित करते हुए कहा कि देश के गांवों को जब बैंकों की ताकत मिली है, तो खेती-किसानी से लेकर व्यापार कारोबार तक, सब में गांव के लोगों की मदद हो रही है। हमने जनधन योजना चलाकर गांव के 40 करोड़ से ज्यादा लोगों के बैंक खाते खुलवाए। हमने इंडिया पोस्ट पैमेंट बैंक के माध्यम से गांवों तक बैंकों की पहुंच बढ़ाई।

पंचायतों को भी स्मार्ट बनाया जा रहा है: PM
पीएम ने कहा कि डिजिटल क्रांति के इस दौर में अब पंचायतों को भी स्मार्ट बनाया जा रहा है। आज ई-ग्राम स्वराज- जीईएम इंटीग्रेटेड पोर्टल का शुभारंभ किया गया है। इससे पंचायतों के माध्यम से होने वाली खरीद की प्रक्रिया सरल और पारदर्शी बनेगी। पीएम ने कहा कि हमारे यहां गांव के घरों के प्रॉपर्टी के कागजों को लेकर बहुत उलझनें रही हैं। इसके चलते भांति-भांति के विवाद होते हैं, अवैध कब्ज़ों की आशंका होती है। ‘पीएम स्वामित्व योजना’ से अब ये सारी स्थितियां बदल रही हैं।

पीएम ने कांग्रेस पर साधा निशाना
पीएम मोदी ने कांग्रेस पर तंज कसते हुए कहा कि पूज्य बापू कहते थे भारत की आत्मा गांवों में बसती है, लेकिन कांग्रेस ने गांधी के विचारों को भी अनसुना किया। आजादी के बाद की सरकारों ने भारत की पंचायती राज व्यवस्था को ध्वस्त किया। जो व्यवस्था सैकड़ों वर्ष, हजारों वर्ष पहले से थी, उसी पंचायती राज व्यवस्था पर आजादी के बाद भरोसा ही नहीं किया गया।

90 के दशक में पंचायती राज के नाम पर खानापूर्ति की, ध्यान नहीं दिया। 2014 के बाद से देश ने अपनी पंचायतों के सशक्तिकरण का बीड़ा उठाया। आज इसके परिणाम नजर आ रहे हैं। आज भारत की पंचायतें गांवों के विकास की प्राणवायु बनकर उभर रही हैं।

पीएम मोदी ने शिवराज सरकार के कार्यों की सराहना करते हुए छिंदवाड़ा के विकास की बात करते हुए कमलनाथ पर निशाना साधा। वहीं, कांग्रेस को घेरते हुए पीएम ने कहा कि जिस दल की सरकार ने देश में सबसे ज्यादा समय तक शासन किया। उसने ही गांवों का भरोसा तोड़ दिया।

कांग्रेस सरकार ने पंचायतों से भेदभाव किया
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि आज यहां ई-ग्राम स्वराज और ई-जेम पोर्टल को मिलाकर जो नई व्यवस्था लॉन्च की गई है, उससे आपका काम और आसान होने वाला है। पीएम स्वामित्व योजना के तहत भी देश के 35 लाख ग्रामीण परिवारों को प्रॉपर्टी कार्ड दिए गए।

पहले की सरकारों ने पंचायतों से भेदभाव किया, अब उनसे उलटा हम उन्हें सशक्त कर रहे हैं। 2014 से पहले पंचायतों के लिए वित्त आयोग का अनुदान 70 हजार करोड़ से भी कम था। इतनी कम राशि से इतना बड़ा देश, इतनी सारी पंचायतें कैसे अपना काम कर पातीं। 2014 में हमारी सरकार आने के बाद पंचायतों को मिलने वाला यह अनुदान 70 हजार से बढ़ाकर 2 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा हो गया है। 2014 से पहले के 10 साल में केंद्र सरकार की मदद से 6 हजार के आसपास पंचायत भवन बनवाए गए थे। हमारी सरकार ने 8 साल के अंदर 30 हजार से ज्यादा नए भवन बनवा दिए हैं।

सामाजिक व्यवस्था को विकसित करना जरूरी: PM
आजादी के इस अमृतकाल में हम सभी देशवासियों ने विकसित भारत का सपना देखा है और उसे पूरा करने के लिए दिन-रात मेहनत कर रहे हैं। भारत को विकसित बनाने के लिए भारत के गांवों की सामाजिक व्यवस्था को विकसित करना जरूरी है।

पंचायती राज सम्मेलन को संबोधित कर रहे पीएम
पंचायती राज सम्मेलन को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि पंचायती राज संस्थाएं लोकतंत्र की भावना को बढ़ावा देने के साथ हमारे नागरिकों के विकास की आकांक्षाओं को पूरा करती हैं।

हितग्राहियों को कराया गृह प्रवेश
पीएम मोदी ने प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत चार लाख हितग्राहियों को वर्चुअल माध्यम से गृह प्रवेश कराया। साथ ही 7853 करोड़ रुपये की पांच नल-जल योजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण किया।

तीन नई ट्रेनों को दिखाई हरी झंडी
पीएम मोदी ने वर्चुअल माध्यम से रीवा-इतवारी ट्रेन समेत तीन नई ट्रेनों को हरी झंडी दिखाएं कर रवाना किया और रीवावासियों को तीन नई ट्रेनों रीवा-इतवारी ट्रेन, छिंदवाड़ा-नैनपुर ट्रेन और नैनपुर-छिंदवाड़ा ट्रेन की सौगात दी और रेल परियोजनाओं को राष्ट्र को समर्पित किया।

ई-ग्राम स्वराज और जीईएम पोर्टल का शुभारंभ
पीएम मोदी ने रीवा के एस.ए.एफ ग्राउंड में आयोजित राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस समारोह में रिमोट दबाकर पंचायत स्तर पर सार्वजनिक खरीद के लिए बनाए गए एकीकृत ई-ग्राम स्वराज और जीईएम पोर्टल का शुभारंभ किया। साथ ही पीएम मोदी ने रिमोट का बटन दबाकर प्रधानमंत्री समावेशी विकास विषय पर आजादी का अमृत महोत्सव अभियान के तहत एकीकृत राष्ट्रीय लांच और एकम समावेशी विकास वेबसाइट और मोबाइल ऐप का शुभारंभ किया।

सीएम ने किया पीएम मोदी का स्वागत
सीएम शिवराज सिंह चौहान ने सुपारी आर्ट से बनी कलाकृति भेंट कर पीएम मोदी का स्वागत किया।

विकास प्रदर्शनी का अवलोकन
पीएम मोदी आज राष्ट्रीय पंचायती दिवस कार्यक्रम के अवसर पर आयोजित पंचायती राज सम्मेलन में शामिल होने के लिए रीवा पहुंचे हैं, जहां वह विकास प्रदर्शनी का अवलोकन कर रहे हैं।

मैहर विधायक ने फिर उठाई विंध्य प्रदेश की मांग
मैहर से भाजपा विधायक नारायण त्रिपाठी ने पीएम मोदी के रीवा आगमन पर फिर से विंध्य प्रदेश पुनर्निर्माण की मांग उठाई है। वह पीएम मोदी के कार्यक्रम में शामिल होकर उनसे विंध्य प्रदेश के पुनर्निर्माण की मांग करेंगे, ताकि विंध्य के लोगों का कल्याण हो सके।

रीवा पहुंचे पीएम मोदी
पीएम मोदी पंचायती राज सम्मेलन के कार्यक्रम में शामिल होने के लिए रीवा पहुंच गए हैं। वे थोड़ी देर में कार्यक्रम को संबोधित करेंगे और प्रदेशवासियों को सौगातें देंगे। पीएम मोदी के साथ प्रदेश के राज्यपाल मंगूभाई पटेल और सीएम शिवराज सिंह चौहान भी कार्यक्रम में मौजूद रहेंगे।

थोड़ी देर में खजुराहो पहुंचेंगे पीएम
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सोमवार को खजुराहो को अल्प प्रवास पर है। वह नई दिल्ली से वायुयान द्वारा थोड़ी देर में खजुराहो एयरपोर्ट आएंगे। प्रधानमंत्री मोदी रीवा में आयोजित राष्ट्रीय पंचायत दिवस और अन्य कार्यक्रमों में शामिल होने के लिए यहां से हेलीकॉप्टर से रीवा रवाना होंगे। कार्यक्रम के बाद दोपहर 2:15 बजे वापस खजुराहो विमानतल पहुंचेंगे और गंतव्य के लिए रवाना होंगे।

सीएम शिवराज ने कहा..
सीएम शिवराज सिंह चौहान ने पीएम के रीवा दौरे पर कहा कि ‘प्रिय प्रदेशवासियों आज फिर मध्यप्रदेश के सौभाग्य के सूर्य का उदय हुआ है। हमारे प्रिय प्रधानमंत्री आज फिर मध्यप्रदेश की धरा रीवा पर पधार रहे हैं। प्रधानमंत्री जी अनेकों सौगातें लेकर आ रहे हैं। एक तरफ वो हमारे गरीब बहनों और भाइयों को और ऐसे चार लाख 11 हजार हितग्रहियों को गृह प्रवेश का कार्यक्रम संपन्न करेंगे। चार लाख 11 हजार गरीब बहनों भाइयों को प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत बने मकानों में गृह प्रवेश का कार्यक्रम होगा।’

‘दूसरी तरफ स्वामित्व के अधिकार पत्र प्रदाय करेंगे। क्षेत्रों में बहनों भाइयों के पास जमीन भी है और उस पर मकान भी बना हुआ है लेकिन कोई अधिकार पत्र नहीं था। अब सवा करोड़ अधिकार पत्र प्रधानमंत्री जी रीवा में हितग्राहियों को सौंपेंगे।’ सीएम ने कहा कि जल जीवन मिशन के अंतर्गत लगभग सात हजार 853 करोड़ रुपये की पांच परियोजनाओं का शिलान्यास करेंगे। इससे रीवा, सतना और सीधी जिले के ग्रामीण क्षेत्रों को पीने का पानी घर में भी मिलेगा। जल जीवन मिशन के अंतर्गत पाइप लाइन बिछाकर टोटी वाला नल लगाकर पानी दिया जाएगा।

मुझे कहते हुए प्रसन्नता है कि अब तक 57 लाख घरों में पीने का पीने का पानी जल जीवन मिशन के अंतर्गत पहुंचा चुके हैं। अब पुनः प्रधानमंत्री जी इन योजनाओं का शिलान्यास करेंगे। रेलवे की सौगातें भी आज प्रधानमंत्री जी मध्यप्रदेश को दे रहे हैं। 2300 करोड़ की विभिन्न रेल परियोजनाओं का शिलान्यास राष्ट्र को समर्पित करने का काम करेंगे। मुझे बताते हुए प्रसन्नता है कि मध्य प्रदेश में रेल नेटवर्क शत्-प्रतिशत विद्युतीकरण के साथ दोहरीकरण का काम, आमान परिवर्तन का काम पूरा हो चुका है। प्रधानमंत्री जी ग्वालियर रेलवे स्टेशन पुनर्विकास का शिलान्यास करेंगे और रीवा को सीधे ट्रेनों के माध्यम से नागपुर से जोड़ने का काम करेंगे। तीन ट्रेनों को हरी झंडी दिखाकर शुभारंभ करेंगे। प्रधानमंत्री जी का मध्यप्रदेश की धरती पर बहुत-बहुत स्वागत।