पहली ही नजर में पीएम मोदी को भाया कलश, ओडिशा के पारंपरिक चिन्हों को दर्शाती है पेंटिंग

0
32

देशभर में आयोजित मेरी माटी मेरा देश अमृत कलश यात्रा के लिए तैयार किए कलशों में से एक कलश पीएम मोदी को पहली नजर में ही भा गया। इस कलश को बनने वाली कलाकार ओडिशा राज्य से आती हैं, जिनका नाम सूर्यस्नाता मोहंती है।

देशभर में आयोजित मेरी माटी मेरा देश अमृत कलश यात्रा के लिए तैयार किए कलशों में से एक कलश पीएम मोदी को पहली नजर में ही भा गया। इस कलश को बनने वाली कलाकार ओडिशा राज्य से आती हैं, जिनका नाम सूर्यस्नाता मोहंती है। ओडिशा की सूर्यस्नाता मोहंती नेशनल लॉ स्कूल बैंगलोर से एलएलएम में स्वर्ण पदक विजेता हैं। मेरी माटी मेरा देश-अमृत कलश यात्रा हमारे अमर शहीदों के बलिदान का सम्मान करने के लिए शुरू की गई एक राष्ट्रव्यापी पहल है।

30 कलाकारों का किया गया था चयन’

इस आयोजन के तहत कलश बनाने के लिए 30 कलाकारों का सेलेक्शन किया गया था। जब उन्हें  ये जिम्मदारी मिली तो उन्हें ये अंदाजा नहीं था कि यह उनके लिए इतना ऐतिहासिक  मौका होगा। सभी को कलश तैयार करने के लिए पांच दिनों का समय दिया गया था। सभी कलाकारों की तरफ से तैयार किए गए कलशों में से 10 कलश चुने गए थे, जिसमें एक सूर्यस्नाता मोहंती का भी था। आखिरी में पीएम मोदी ने सूर्यस्नाता मोहंती द्वारा बनाए गए कलश को चुना। उन्होंने कलश को खुद अपने हाथों से पेंट किया है।

ओडिशा के पारंपरिक चिन्हों को दर्शाती है कलश पर की गई पेंटिंग 

खास बात यह है कि कलश पर की गई पेंटिंग ओडिशा के पारंपरिक चिन्हों को दर्शाती है। पेंटिंग के प्रति उनके जुनून ने नेशनल मॉडर्न आर्ट गैलरीज और इंडिया हैबिटेट सेंटर जैसे प्रतिष्ठित स्थानों में आयोजित राष्ट्रीय प्रदर्शनियों में पहचान हासिल की है। जैसा कि देश अपने शहीदों को श्रद्धांजलि दे रहा है, वहीं भारत की सांस्कृतिक टेपेस्ट्री में ओडिशा के कलाकारों के अपार योगदान को भी स्वीकार करता है।