क्‍या पाकिस्‍तान सुपर लीग के लिए छिपा रहा कोरोना वायरस के मामले, सरकार ने दिया यह जवाब

0
116

इस्‍लामाबाद । कोरोना वायरस को लेकर पूरी दुनिया में हड़कंप की स्थिति है। चीन के वुहान शहर से निकला यह घातक वायरस ईरान, साउथ कोरिया, जापान, इटली, ब्रिटेन, अमेरिका, नेपाल और भारत समेत करीब 70 से अधिक मुल्‍कों में दस्तक दे चुका है। पड़ोसी देश पाकिस्तान ने कोरोना वायरस से संक्रमित पांच मामलों की पुष्टि की है। हालांकि मीडिया रिपोर्टों में आरोप लगाए जा रहे हैं कि पाकिस्‍तान में स्थिति ज्यादा खराब है और पाकिस्‍तानी हुकूमत कोरोना के मामलों की सही संख्‍या नहीं बता रही है।

मीडिया रिपोर्टों में आरोप लगाए जा रहे हैं कि इमरान खान की सरकार जानबूझकर कोरोना वायरस के मामलों को छिपा रही है ताकि वहां चल रही टी-20 क्रिकेट लीग पर कोई असर नहीं होने पाए। हालांकि, समाचार एजेंसी पीटीआइ की रिपोर्ट के मुताबिक, पाकिस्‍तान के एक वरिष्‍ठ अधिकारी ने इन रिपोर्टों को खारिज कर दिया कि सरकार टी-20 क्रिकेट लीग (Pakistan Super League) के कारण आंकड़ों को छिपा रही है। रिपोर्टों में कोरोना वायरस के संक्रमित मामलों की संख्‍या लगभग 250 बताई गई है।

प्रधानमंत्री इमरान खान के विशेष सहायक जफर मिर्जा से जब संवाददाताओं ने इन रिपोर्टों की बाबत सवाल किए तो उन्‍होंने उन्‍होंने कहा कि 100 फीसद ये रिपोर्टें झूठी हैं। मालूम हो कि पाकिस्तान में इन दिनों टी-20 क्रिकेट लीग पाकिस्तान सुपर लीग (Pakistan Super League, PSL) खेली जा रही है। 20 फरवरी से शुरू हुई यह प्रतियोगिता 22 मार्च तक चलेगी। इसमें कई अंतरराष्‍ट्रीय खिलाड़ी भी भाग ले रहे हैं।

मिर्जा ने कहा, ‘पाकिस्‍तान में कोरोना वायरस के संक्रमित मामलों की संख्या केवल पांच है। आंकड़े छ‍िपाने की खबरें 100 फीसदी गलत हैं। सच तो यह है कि ये 200 फीसदी गलत हैं।’ इस बीच कराची में कोरोना वायरस के दूसरे मरीज की पुष्टि होने के बाद सिंध प्रांत के मुख्‍यमंत्री सैयद मुराद अली शाह ने अपने मंत्रिमंडल के अधिकारियों को 5,000 परीक्षण किट खरीदने के आदेश दिए हैं। पाकिस्‍तानी अखबार एक्‍सप्रेस ट्रिब्‍यून (Express Tribune) की रिपोर्ट के मुताबिक, कई संदिग्‍ध मरीजों के सामने आने के बाद परीक्षण किटों की जरूरत महसूस की जा रही थी।