Modi 2.0: मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के 100 दिन, आज जनता को उपलब्धियां बताएगी भाजपा

0
106

नई दिल्ली । नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार के दूसरे कार्यकाल के 100 दिन शनिवार को पूरे हो गए हैं। भाजपा ने इन 100 दिनों की उपलब्धियों को इस तरह से जनता के सामने पेश किया है जिससे लोगों को पता चले की ये सरकार निर्णय लेने में सक्षम आत्मविश्वास से भरपूर एक निर्नायक सरकार है। इस अवसर पर उम्मीद की जा रही है की भव्य समारोह होगा।

भाजपा के अंदरूनी सूत्रों का कहना है कि ये सरकार एक निर्णायक सरकार है। जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 और अनुच्छेद 35 ए निरस्त करना पहले 100 दिनों में सरकार की सबसे बड़ी उपलब्धियों में से प्रमुख हैं। अनुच्छेद 370 को निरस्त करना भाजपा के घोषणा पत्र में किया गया सबसे बड़ा वादा था। साथ ही तीन तलाक कानून भी उन्हीं उपलब्धियों में से एक है क्योंकि, राज्यसभा में पार्टी की पर्याप्त संख्या नहीं होने के बाद भी तीन तलाक बिल पास करवाया गया, जैसा की मुस्लिम महिलाओं से वादा किया गया था।

जानकारी के लिए बता दें कि तीन तलाक बिल पास होने के बाद एक साथ तीन तलाक देना अपराध है। साथ ही ऐसा करने वाले तो तीन साल की जेल भी होगी।

इस तरह से जनता को बताई जाएंगी उपलब्धियां
पार्टी के सूत्रों ने कहा कि ऐसा ना लगे की पार्टी खुद का प्रचार कर रही है। इसलिए पार्टी के शीर्ष नेतृत्व ने अपने राज्य के नेताओं और सांसदों को स्पष्ट निर्देश दिया है कि वे बड़े पोस्टर और बैनर न लगाएं। उनसे कहा गया है कि मोदी सरकार की उपलब्धियां सूचीबद्ध करने के लिए या तो डोर-टू-डोर जाए या फिर छोटी सभाएं आयोजित करें। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पीएम मोदी 8 सितंबर को एक मेगा प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करेंगे।

प्रकाश जावड़ेकर को सौंपी गई ये जिम्मेदारी
चर्चा चल रही हैं कि सूचना मंत्री प्रकाश जावड़ेकर को सरकार की पहली 100 दिनों की उपलब्धियां बताने का काम सौंपा गया है। उन्होंने बताया कि शनिवार को पीएम मोदी महाराष्ट्र में सात बड़े प्रोजेक्ट लॉन्च करके अपनी पार्टी के लिए चुनावी बिगुल बजाएंगे। साथ ही उसी दिन वह मुंबई, नागपुर और औरंगाबाद की यात्रा करेंगे।

कुछ कल्याणकारी योजनाओं को शुरू करने के लिए प्रधानमंत्री मंगलवार को उत्तर प्रदेश के मथुरा जाएंगे। सूत्रों के अनुसार, भाजपा की सोमवार से सभी राज्यों की राजधानियों में प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित करने की संभावना है। जिन्हें दिल्ली के नेताओं के बजाय राज्य नेतृत्व द्वारा संबोधित किया जाना है।

पीएम मोदी के जन्मदिन पर मनाया जाएगा सेवा सप्ताह
17 सितंबर को पीएम मोदी के जन्मदिन के अवसर पर भाजपा ने फैसला किया है कि प्रधानमंत्री के जन्मदिन तक पूरे सप्ताह ‘सेवा सप्ताह’ मनाया जाएगा। सभी 303 बीजेपी सांसदों से पूछा गया है कि वे अपने-अपने निर्वाचन क्षेत्रों में ‘सेवा सप्ताह’ में योगदान देने के लिए क्या कर सकते हैं?