भोपाल IIIT को मिलेगा राष्ट्रीय महत्व का दर्जा, नरेंद्र मोदी कैबिनेट ने दी मंजूरी

0
147

भोपाल: केंद्रीय कैबिनेट ने बुधवार को आईआईआईटी (IIIT) अमेंडमेंट बिल 2020 को अपनी स्वीकृति दे दी. वहीं, केंद्र सरकार ने बड़ा फैसला लेते हुए भोपाल ट्रिपल आईटी को राष्ट्रीय महत्व का दर्जा दे दिया है.

भोपाल आईआईआईटी (मौलाना आजाद राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान) सहित देश के पांच और ट्रिपल आईटी को भी भारत सरकार ने राष्ट्रीय महत्व के संस्थान घोषित करने की मंजूरी दे दी है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में यह फैसला लिया गया.

ये पांचों आईआईआईटी पीपीपी मोड पर ही स्थापित रहेंगे. वर्तमान में देश में करीब 20 ट्रिपल आईटी हैं. इनमें से सिर्फ 15 संस्थानों को राष्ट्रीय महत्व का दर्जा पूर्व में मिला था.

भोपाल के अलावा सूरत, भागलपुर, अगरतला और रायचूर आईआईआईटी को राष्ट्रीय महत्व का दर्जा नहीं मिला था. अब आईआईआईटी (IIIT) अमेंडमेंट बिल 2020 संसद में पास होते ही इन संस्थानों को भी राष्ट्रीय महत्व का दर्जा मिल जाएगा.

आईआईआईटी भोपाल को राज्य शासन ने जमीन आवंटित कर दी है. हालांकि यह संस्थान अभी भी इंडस्ट्रियल पार्टनरशिप के लिए ऐसी इंडस्ट्री की खोज कर रहा है जो इसके उद्देश्यों की पूर्ति कर सके.

वर्तमान में इसके करीब 350 छात्र-छात्राओं की कक्षाएं मैनिट परिसर में संचालित हो रही हैं.