मोदी मतलब गारंटी

0
44

देश में भाजपा शासित प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार को नौ साल पूरे हो गए हैं। वर्ष 2014 से पहले घोषणाओं को पूरा होने में सालों लग जाते थे, लेकिन अब घोषाणएं भी हो रही हैं ओर उन्हें नियत समय पर पूरा भी किया जा रहा है। जिसका सीधे तौर पर जनता को लाभ भी मिल रहा है। इस लिहाज से यह कहा जा सकता है कि मोदी सरकार केवल वायदों की सरकार नहीं है बल्कि अब जो कहा जाता है वह करके दिखाया जाता है। अपनी कई चुनावी रैली में प्रधानमंत्री खुद इस बात को स्वीकार कर चुके हैं कि मोदी मतलब गारंटी, हाल ही में मध्यप्रदेश की जनता को संबोधित करने पहुंचे प्रधानमंत्री ने कहा कि मोदी जो गारंटी देता है वो जमीन पर उतरती है और घर घर पहुंचती है।

उम्मीदों पर खरे उतरते नरेंद्र मोदी
सदन में महिलाओं आरक्षण देने का प्रयास 27 साल पहले किया गया, लेकिन मूर्त रूप नहीं दिया जा सका। नई संदन की औपचारिक शुरूआत में महिला आरक्षण के लिए विशेष सत्र आयोजित किया गया। नारी शक्ति वंदन अधिनियम के रूप में आज 33 फीसदी आरक्षण एक बिल बन चुका है। भाजपा ने अपने घोषणा पत्र में महिला आरक्षण बिल को प्रमुखता से स्थान दिया था। भोपाल आगमन पर प्रधानमंत्री ने कहा था कि अपने वायदों को पूरा करने के साथ सरकार लोगों की हर उम्मीद पर खरी उतरी है। 33 फीसदी आरक्षण को पारित कर सरकार ने यह साबित कर दिया कि नरेंद्र मोदी की कथनी और करनी में फर्क नहीं है। मध्यप्रदेश में अपने संबोधन में प्रधानमंत्री ने कहा कि विपक्ष का घमंडिया गठबंधन इस बिल को कभी भी पास करने के पक्ष में नहीं था, सदन में कांग्रेस ने मजबूरी में बिल के समर्थन में वोट दिया है। सत्ता में रहते हुए कांग्रेस ने कभी इस बिल को पारित नहीं होने दिया।