MP विधानसभा का बजट सत्र 16 मार्च को होने की संभावना

0
134

भोपाल । Madhya Pradesh Assembly Budget Session विधानसभा का बजट सत्र इस वर्ष 16 मार्च से शुरू होने की संभावना है और यह अप्रैल तक चलाया जा सकता है। होली और रंगपंचमी की वजह से सत्र को मार्च के दूसरे पखवाड़े में शुरू करने का प्रस्ताव तैयार किया जा रहा है। हालांकि 31 मार्च के पहले बजट पारित किए जाने की बाध्यता होने से बजट बैठकों को देर शाम तक चलाए जाने की मजबूरी रहेगी और तभी सत्र को 16 मार्च से शुरू किया जा सकता है।

सूत्रों के मुताबिक संसदीय कार्य विभाग के माध्यम से बजट सत्र का एक प्रस्ताव तैयार किया गया है, जिसमें होली-रंगपंचमी के बाद इसे प्रस्तावित किया गया है। इसको लेकर उच्च स्तरीय चर्चा के बाद यह कहा गया कि मार्च के पहले सप्ताह में अब सत्र की शुरुआत नहीं हो सकती और दूसरे सप्ताह में होली-रंगपंचमी की छुट्टी होती है। इसलिए मार्च के दूसरे पखवाड़े से सत्र की शुरुआत करना उचित होगा।

16 मार्च सोमवार से सत्र को शुरू करने की तैयारी है, जिसकी शुरुआत राज्यपाल के अभिभाषण से होगी। राज्यपाल के अभिभाषण पर चर्चा के बाद 20 मार्च को बजट पेश किए जाने की संभावना है। 23 मार्च सोमवार से बजट पर चर्चा कराते हुए 30 मार्च तक इसे पारित कराए जाने पर विचार किया जा रहा है। सूत्र बताते हैं कि बजट सत्र को लेकर मुख्यमंत्री कमलनाथ को अंतिम फैसला करना है।

मार्च-अप्रैल में भी होते रहे हैं बजट सत्र

विधानसभा का बजट सत्र आमतौर से फरवरी के अंतिम सप्ताह में शुरू होकर मार्च में समाप्त हो जाता है। 2006, 2007 तथा 2011 में अपवाद रहा है तब बजट सत्र अप्रैल तक चला। 2006-2007 में तो मार्च-अप्रैल में सत्र चला, लेकिन 2011 में तो फरवरी से बजट सत्र शुरू होकर अप्रैल तक आयोजित किया गया था।

बजट पर कम से कम 40 घंटे की चर्चा आवश्यक है, लेकिन हंगामे की स्थिति होने पर कम समय में भी चर्चा को पूरा किया जा सकता है। 2020 के बजट सत्र को लेकर विधानसभा के प्रमुख सचिव एपी सिंह का कहना है कि अभी होली के बाद सत्र की चर्चा है और शासन को फैसला करना है।