Karnataka Assembly Election 2023 : शिवराज सिंह चौहान ने कहा ‘कर्नाटक को SMS से बचना होगा’

0
53

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि कर्नाटक को एसएमएस (SMS) से बचना होगा। उन्होने कहा कि राज्य को बचाने के लिए एसएमएस से दूरी जरूरी है और डबल इंजन की सरकार ही वहां स्थायित्व ला सकती है। बता दें कि कर्नाटक विधानसभा की सभी 224 सीटों के लिए 10 मई 2023 को एक चरण में चुनाव होंगे और 13 मई को मतगणना होगी।

आखिर ये SMS है क्या ? बकौल शिवराज ये हैं सिद्धारमैया-मल्लिकार्जुन खड़गे-शिवकुमार। दरअसल ये कांग्रेस की वो तिकड़ी है जो कर्नाटक में बीजेपी के लिए खासी चुनौती साबित हो रही हैं। कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने दावा किया है कि चुनाव में वो 130 से ज्यादा सीटें जीतेंगे। उन्होने कहा कि बीजेपी के खिलाफ एंटी-इनकंबेंसी है और लोग तंग आ चुके हैं। वहीं कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष और कर्नाटक से राज्यसभा सदस्य मल्लिकार्जुन खड़गे के कद से कोई नावाकिफ़ नहीं। तीसरा नाम है डीके शिवकुमार का जो फिलहाल कर्नाटक कांग्रेस के अध्यक्ष हैं और काफी कद्दावर नेता माने जाते हैं। सात बार विधायक और पूर्व मंत्री शिवकुमार चुनाव की कमान संभाल रहे हैं और उन्हें संकटमोचक भी कहा जाता है। सिद्धारमैया और शिवकुमार दोनों ही सीएम पद के दावेदार हैं लेकिन खड़गे ने कहा है कि इसका फैसला विधायकों की सहमति से लिया जाएगा।

तो ये है वो SMS..जिनसे बचने की सलाह सीएम शिवराज दे रहे हैं। पिछले दिनों भी जब वो चुनाव प्रचार के लिए कर्नाटक के हुक्केरी पहुंचे थे और वहां उन्होने कांग्रेस के थ्री-सी (3C) का फार्मूला दिया था। उन्होने कहा था कि कांग्रेस की पहचान है 3C जिसका अर्थ है करप्शन, क्राइम और कमीशन। अब एक बार फिर वो एसएमएस की उपमा लेकर आए हैं जिसका अर्थ है सिद्धारमैया, मल्लिकार्जुन खड़गे और शिवकुमार। सीएम शिवराज ने कहा कि ‘कर्नाटक को एसएमएस से बचना होगा। ये वहां के विकास के लिए खतरनाक हैं। जैसे एक करप्ट मैसेज मोबाइल को खराब कर देता है वैसे ही एसएमएस, ये करप्ट मैसेज कर्नाटक के भविष्य को तबाह और बर्बाद कर देगा। डबल इंजन की सरकार ही कर्नाटक को बचा सकती है।’ इस तरह एक बार फिर शिवराज अपनी कमान से नया तीर चला दिया है। अब उनके 3C फॉर्मूला के जवाब में तो कमलनाथ ने 5B फॉर्मूला पेश कर दिया है, देखना होगा कि SMS के जवाब में कांग्रेस क्या तोड़ लेकर आती है।