कमलनाथ सरकार ने अनिल अंबानी को दी बड़ी राहत, कर्ज चुकाने के लिए मिले 4 साल

0
144

भोपाल: राहुल गांधी अक्सर अपने भाषणों में अनिल अंबानी और गौतम अडानी का नाम लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते रहते हैं. राहुल का आरोप रहता है कि अंबानी और अडानी, पीएम मोदी के दोस्त हैं और इसलिए उनके कर्ज माफ किए जाते हैं. राफेल फाइटर जेट को लेकर कांग्रेस पार्टी और खासकर राहुल गांधी ने अनिल अंबानी के नाम पर पीएम मोदी को जमकर घेरने की कोशिश की थी.

राहुल गांधी तो लगातार कहते थे कि नरेंद्र मोदी ने अनिल अंबानी की जेब में 10,000 करोड़ रुपये डाल दिए. अब मध्य प्रदेश में कांग्रेस पार्टी की सरकार अनिल अंबानी को कर्ज चुकाने में सहूलियत दे रही है. दरअसल, अनिल अंबानी पर मध्य प्रदेश सरकार को 450 करोड़ रुपये बकाया है. इस रकम को चुकाने के लिए कमलनाथ सरकार ने अनिल अंबानी को 4 साल की मोहलत दी है.

निवेश संवर्धन की कैबिनेट कमेटी (सीसीआइपी) ने अनिल अंबानी को यह राहत दी है. अनिल अंबानी के सिंगरौली सासन पॉवर प्रोजेक्ट के बिजली, पानी और माइनिंग रॉयल्टी की करोड़ों की राशि बकाया है. मध्य प्रदेश सरकार ने पहले वसूली मियाद 1 साल बढ़ाई थी, अब उसे वर्ष 2024- 25 तक किया है. सासन प्रोजेक्ट ने आवेदन कर इतनी राशि 1 साल में चुकाने में असमर्थता जाहिर की थी.

सासन प्रोजेक्ट से मध्य प्रदेश को कुल उत्पादन की 37 फीसदी बिजली मिलती है. इसकी कीमत 2 रु प्रति यूनिट है. उद्योग विभाग के मुताबिक सासन प्रोजेक्ट से हर साल सरकार को 2800 करोड़ रु की बचत हो रही है अन्यथा 4 रु प्रति यूनिट बिजली खरीदनी पड़ती. उद्योगपति अनिल अंबानी को छूट देने पर कमलनाथ सरकार में जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा ने कहा कि मध्य प्रदेश में निवेश आकर्षित करने के लिये यह फैसला लिया गया है.