जेपी नड्डा बोले – CAA से किसी मुस्लिम की नागरिकता नहीं जाएगी

0
125

इंदौर। पाकिस्तान से विस्थापित सिंधी और सिख समाज के सम्मेलन को संबोधित करते हुए भाजपा राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष जगतप्रकाश नड्डा ने कहा कि सीएए नागरिकता देने का कानून है, किसी की नागरिकता छीनने का नहीं। बाहर से प्रताड़ित होकर हमारे जो भाई आए हैं उनको भी सम्मान से जीने का अधिकार मिले, यह कानून इसीलिए है। इससे किसी मुस्लिम की नागरिकता नहीं जाएगी। नागरिकता संशोधन कानून को लेकर इंदौर में यह सम्मेलन इंदौर में आयोजित किया जिसमें पाकिस्तान से विस्थापित कई सिंधी और सिख समाज के लोग भी शरीक हुए। भाजपा नेता नड्डा ने सम्मेलन में मौजूद लोगों से कहा कि जो भारत का मर्म नहीं जानते हों, वह राजनीति में आते हैं तो किस तरह की राजनीति होती है, वह आपने देखा है। मैं इशारों में कह रहा हूं कि उनसे होशियार रहना जो आपके हक पर डाका डालेंगे।

देश के विभाजन के समय नेहरू और लियाकत के बीच समझौता हुआ था कि दोनों देशों को अल्पसंख्यकों की रक्षा करनी होगी। हमने की है, लेकिन पाकिस्तान में हिंदू व अन्य अल्पसंख्यक 28 फीसदी से सिर्फ तीन फीसदी रह गए। बांग्लादेश में भी 22 से घटकर सात फीसदी अल्पसंख्यक रह गए। कोई इसका जवाब देगा? उन्होंने कहा कि देश में 70 साल से नागरिकता संशोधन कानून को लेकर बात चल रही है। कांग्रेस ने भी चर्चा की, लेकिन किसी ने इस कानून में परिवर्तन के बारे में कुछ नहीं किया। यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की इच्छाशक्ति और गृह मंत्री अमित शाह की रणनीति का परिणाम है कि यह कानून पास होकर साकार हुआ है। नड्डा बोले, कांग्रेस के लिए देश नहीं, वोट बैंक सर्वोपरि है, इसलिए वह भी सीएए के विरोध को समर्थन दे रही है। पर भाजपा ने तय किया है कि वह गुमराह करने वालों को सबक सिखाएगी। देश के सामने दूध का दूध और पानी का पानी करेगी।

पाकिस्तान के विस्थापितों ने सुनाई खुद पर हुए जुल्म की दास्तां

सांसद शंकर लालवानी ने पाकिस्तान से विस्थापित हुए सिंधी भाई-बहनों को मंच पर बुलाया। उन्होंने वहां हुए जुल्म की दास्तां सुनाई। सम्मेलन में देश विभाजन के दौरान पाकिस्तान से भारत आने वाले हिंदुओं पर हुए जुल्म की चित्र प्रदर्शनी भी लगाई गई थी। राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने सभी नेताओं के साथ इस प्रदर्शनी को देखा। संगठन महामंत्री सुहास भगत, पूर्व सांसद कृष्णमुरारी मोघे, शहर अध्यक्ष गोपीकृष्ण नेमा, महापौर मालिनी गौड़, विधायक उषा ठाकुर, महेंद्र हार्डिया, रमेश मेंदोला, जीतू जिराती, सुदर्शन गुप्ता, आकाश विजयवर्गीय, प्रदेश मीडिया प्रभारी लोकेंद्र पाराशर, संभागीय मीडिया प्रभारी सर्वेश तिवारी आदि मौजूद थे।

महापौर ने भरा पांच हजार रुपए का सफाई शुल्क

कार्यकारी अध्यक्ष के स्वागत के लिए फेंके गए फूलों की सफाई के लिए मेयर मालिनी गौड़ ने पांच हजार रुपए का सफाई शुल्क भरा। रैली के बाद मार्ग पर सफाई भी हुई। नड्डा का भाजपा नेताओं ने अलग-अलग अंदाज में स्वागत भी किया। शुभकारज गार्डन से होटल पहुंचने के दौरान पीपल्यापाला पर प्रदीप नायर और राजा कोठारी ने उनका स्वागत किया। स्वागत मार्ग पर पार्षद टीनू जैन के आग्रह पर नड्डा ने कबूतर उड़ाए। पार्षद चंदू शिंदे ने मंच से रंग-बिरंगी कागजों की वर्षा से उनका स्वागत किया। भाजयुमो उपाध्यक्ष सन्नी टूटेजा ने उन्हें रामदरबार भेंट किया। सुधीर देड़गे, बलराम वर्मा, राजेंद्र राठौर, सुरेश कुरवाड़े सहित अन्य नेताओं ने भी मार्ग पर स्वागत मंच लगाए थे।