जामिया फायरिंग पर गृह मंत्री अमित शाह ने कहा- ऐसी घटना बर्दाश्त नहीं, दोषी को बख्शा नहीं जाएगा

0
122

नई दिल्ली: दिल्ली के जामिया इलाके में नागरिकता की लड़ाई में गुरुवार को फिर से हिंसा हो गई. जामिया से राजघाट तक मार्च की तैयारी हो रही थी, उससे पहले ही एक युवक ने पहले हवा में तमंचा लहराया और मीडिया की तरफ फायरिंग कर दी. फायरिंग में एक शख्स घायल हो गया. आरोपी पुलिस की गिरफ्त में है. जामिया गोलीकांड की घटना पर गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि ऐसी घटना बर्दाश्त नहीं, दोषी को बख्शा नहीं जाएगा.

शाह ने अपने एक ट्वीट में कहा, “आज दिल्ली में जो गोली चलाने की घटना हुई है, उस पर मैंने दिल्ली पुलिस कमिश्नर से बात की है और उन्हें कठोर से कठोर कार्यवाही करने के निर्देश दिए हैं. केंद्र सरकार इस तरह की किसी भी घटना को बर्दाश्त नहीं करेगी. इस पर गंभीरता से कार्यवाही की जाएगी और दोषी को बख्शा नहीं जाएगा.”

शाह ने अपने एक अन्य ट्वीट में कहा, “आज दिल्ली में हुई फायरिंग की घटना की जांच दिल्ली पुलिस के स्पेशल सीपी, प्रवीर रंजन को सौंपी है, वो समग्रता से इस पूरी घटना की जांच करेंगे.”

हमलावर ने गोली चलाने का लाइव वीडियो पोस्ट किया
गोली चलाने वाले शख्स का नाम गोपाल है. दिल्ली के जामिया में नागरिकता कानून के विरोध में मार्च के दौरान गोपाल ने पहले तो काफी देर तक तमंचा लहराया फिर गोली चला दी. गोली मीडिया को निशाना बनाकर चलाई गई थी जो जामिया के छात्र शादाब को लग गई. जब आरोपी पिस्तौल लहरा रहा था, तब तक दिल्ली पुलिस ने उसे गिरफ्तार नहीं किया, जब उसने फायरिंग कर दी तब गोपाल को गिरफ्तार किया गया.

घायल शादाब को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. गोली चलाने से पहले गोपाल ने फेसबुक पर शाहीन बाग को लेकर कई पोस्ट भी किए और तो और फेसबुक लाइव पर वीडियो भी पोस्ट किया था. गोपाल नोएडा के जेवर का रहने वाला बताया जा रहा है, पुलिस गोपाल से पूछताछ कर रही है.

गोपाल ने फेसबुक पर अपना नाम रामभक्त गोपाल लिखा है. फायरिंग से पहले एक के बाद उसने कई फेसबुक पोस्ट किए.
– शाहीन भाग, खेल खत्म
– कोई हिंदू मीडिया नहीं है
– मेरी अंतिम यात्रा में मुझे भगवा में ले जायें और जय श्रीराम के नारे हों
– चंदन भाई ये बदला आपके लिए है