कोरोना वायरस से निपटने के लिए सभी जिलों को आकस्मिक योजना तैयार करने का निर्देश

0
293

नई दिल्ली कोविड-19 पर मंत्रियों के समूह ने गुरुवार को बैठक कर वायरस की रोकथाम और प्रबंधन योजनाओं पर चर्चा की। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन की अध्यक्षता वाले मंत्री समूह की बैठक में केंद्र और राज्य सरकारों द्वारा बीमारी के प्रसार को रोकने के लिए अब तक की गई कार्रवाइयों पर भी चर्चा की गई।

कोरोना वायरस के संचरण की श्रृंखला को तोड़ने के लिए लागू किए जा रहे शारीरिक दूरी का मुद्दा भी बैठक में उठाया गया। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी बयान में कहा गया है कि मंत्री समूह को सूचित किया गया कि सभी जिलों को महामारी से निपटने के लिए अपनी आकस्मिक योजना तैयार करने और मजबूत करने के लिए कहा गया है।

मंत्री समूह की बैठक में वायरस की रोकथाम और प्रबंधन योजनाओं पर चर्चा

बयान में कहा गया है कि राज्यों की क्षमता मजबूत करने पर भी विस्तार से चर्चा की गई। इसमें सिर्फ कोविड-19 के इलाज के लिए अस्पताल बनाना, चिकित्सा संस्थानों को पीपीई, वेंटिलेटर और अन्य आवश्यक उपकरणों से लैस करना शामिल है। बयान में कहा गया है कि राज्यों को कोविड-19 केंद्रों और अस्पतालों की पहचान करने के लिए कहा गया है।

बैठक में नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी, विदेश मंत्री एस जयशंकर, गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय, स्वास्थ्य और परिवार कल्याण राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे और चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बिपिन रावत भी उपस्थित थे। मंत्री समूह ने देशभर में जांच की रणनीति और टेस्टिंग किट की भी समीक्षा की।