हमास प्रमुख ने अमेरिका की मध्य पूर्व शांति संधि की खारिज, दी ये वजह

0
109

गाजा: इस्लामिक हमास आंदोलन के प्रमुख इस्माइल हानिये ने अमेरिका (US) की मध्य पूर्व शांति योजना को खारिज करने की घोषणा कर दी है. उनके कार्यालय ने एक बयान में यह जानकारी दी. अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने इस योजना को डील ऑफ द सेंचुरी (सदी का समझौता) बताया है.

समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने रविवार को जारी हुए बयान के हवाले से कहा, “अपना रास्ता खुद बनाने तथा अपने जेरूशलम और अपने पवित्र स्थलों को बचाने के लिए हम फतेह पार्टी में अपने भाइयों तथा काहिरा में सभी धड़ों के साथ आकस्मिक बैठक करने के लिए तैयार हैं. फिलिस्तीनी धड़ों ने अमेरिकी मध्य पूर्व शांति योजना की आलोचना की है. अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप मंगलवार को इजरायल (Israel) के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू के व्हाइट हाउस दौरे के दौरान इस योजना का खुलासा करेंगे.

ट्रंप ने 23 जनवरी को संवाददाताओं से कहा था कि ‘फिलिस्तीनी शुरुआत में इस योजना पर नकारात्मक प्रतिक्रिया दे सकते हैं, लेकिन वास्तव में यह उनके लिए बहुत सकारात्मक है. ट्रंप इजरायल और फिलिस्तीन के बीच शांति के लिए अपनी ‘डील ऑफ द सेंचुरी’ का प्रकाशन कई बार स्थगित कर चुके हैं.

ट्रंप की योजना के आर्थिक भाग पिछले साल जून में बहरीन में अमेरिका की अगुआई हुए सम्मेलन में खुलासा हुआ था. फिलिस्तीनियों ने इस सम्मेलन का बहिष्कार कर दिया था. साल 2017 में अमेरिका द्वारा इजरायल की राजधानी के रूप में जेरूशलम को मान्यता देने और 2018 में अमेरिकी दूतावास जेरूशलम स्थानांतरित करने पर अमेरिका और फिलिस्तीन के राजनीतिक संबंध नाजुक स्थिति में पहुंच गए थे.