जापान के नए पीएम सुगा से पीएम मोदी की पहली टेलीफोन वार्ता, चीन को लेकर कोई बदलाव नहीं

0
182

नई दिल्ली। जापान के नए पीएम सुगा योशीहीदे के आने से यह माना जा रहा है कि शायद चीन को लेकर उनका रवैया पूर्व पीएम शिंजो आबे से नरम रहेगा, लेकिन शुक्रवार को उनकी भारत के पीएम नरेंद्र मोदी से टेलीफोन पर लंबी बात हुई है और जो संकेत मिला है वह इस बात की गवाही दे रहा है कि जापान के रवैये में कोई बदलाव नहीं आया है।

सुगा ने मोदी से कहा- ‘क्वैड’ प्राथमिकता पर, ‘क्वैड’ है जापान-आस्ट्रेलिया-भारत-अमेरिका

सुगा ने मोदी से कहा कि, वह जापान-आस्ट्रेलिया-भारत-अमेरिका के बीच की बहुराष्ट्रीय गठबंधन को बढ़ावा देना चाहते हैं और यह उनकी सरकार के लिए प्राथमिकता के तौर पर है। उक्त चारों देशों के गठबंधन को ‘क्वैड’ के नाम से जाना जाता है और इनके विदेश मंत्रियों की बैठक अगले महीने जापान या भारत में कराने को लेकर सभी सदस्य देशों में विमर्श चल रहा है।

मोदी व सुगा के बीच कई मुद्दों पर बात हुई

मोदी व सुगा के बीच हिंद-प्रशांत क्षेत्र को सभी पक्षों के लिए मुक्त व आजाद रखने संबंधी मुद्दों पर भी बात हुई। कहने की जरुरत नहीं कि बातचीत में चीन से जुड़े पक्ष अहम रहे हैं।

मोदी और सुगा के बीच बुलेट परियोजना को लेकर भी चर्चा हुई

मोदी और सुगा के बीच जापान की मदद से भारत में लगाये जा रही बुलेट परियोजना को लेकर भी चर्चा हुई है। जापान बुलेट परियोजना को तेजी से आगे बढ़ाने पर जोर दे रहा है। दोनो देशों के बीच दूसरी बुलेट परियोजनाओं के भी विमर्श चल रहा है।

भारत-जापान शिखर सम्मेलन में बुलेट परियोजना पर विस्तार से होगी चर्चा

माना जा रहा है कि जब भारत-जापान शिखर सम्मेलन होगा तब इस बारे में और विस्तार से चर्चा होगी। मोदी और पूर्व पीएम आबे की अगुवाई में दिसंबर, 2019 में ही शिखर सम्मेलन होनी थी, लेकिन असम हिंसा की वजह से उसे रद्द कर दिया गया था। अभी सितंबर, 2020 में फिर से वर्चुअल शिखर सम्मेलन की तैयारी की जा रही थी तभी आबे ने स्वास्थ्य कारणों से अपने पद से हटने का ऐलान कर दिया है। शुक्रवार को मोदी और सुगा में यह सहमति बनी है कि कोविड-19 की स्थिति के सुधरने के बाद यह सम्मेलन में किया जाएगा।