दिग्विजय सिंह के भाई ने किया मोदी सरकार के बजट का बचाव, कहा- निराशा फैलाना ठीक नहीं

0
131

भोपाल: अपने बयानों को लेकर चर्चा में रहने वाले और अक्सर पार्टी लाइन से अलग राय रखने वाले मध्य प्रदेश के कांग्रेस विधायक लक्ष्मण सिंह ने केंद्रीय बजट की हो रही आलोचना के बीच मोदी सरकार का बचाव किया है.

उन्होंने ट्वीट किया, ‘देश,प्रदेश का बजट पारित होते ही समीक्षा करना उचित नहीं है. समीक्षा एक वर्ष बाद करना चाहिए. अगर उसमें खामियां हैं, तो उजागर करें,अन्यथा शुरू में आलोचना कर एक निराशा का वातावरण बनाना उचित नहीं है.’

आपको बता दें कि लक्ष्मण सिंह कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह के छोटे भाई है. वह वर्तमान में चांचौड़ा असेंबली सीट से विधायक हैं. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के केन्द्रीय बजट पेश करने के बाद से ही कांग्रेस पार्टी इसे निराशाजनक और जनता के साथ धोखा बता रही है.

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ और उनके मंत्रियों ने भी बजट को आंकड़ों का मायाजाल बताया. लेकिन इन सब के बीच कांग्रेस विधायक लक्ष्मण सिंह ने बजट को लेकर पार्टी लाइन से अलग बयान दिया है.

यह पहली बार नहीं है जब लक्ष्मण सिंह ने पार्टी लाइन से अलग हटकर बयानबाजी की है. इससे पहले भी लक्ष्मण सिंह ने कमलनाथ को मजबूर मुख्यमंत्री बताया था. उन्होंने नागरिकता संशोधन कानून का समर्थन भी किया था.

इसके अलावा लक्ष्मण सिंह ने मध्य प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने के 10 दिनों के भीतर किसानों की कर्जमाफी नहीं होने पर तत्कालीन पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधा था. उन्होंने राहुल गांधी से मध्य प्रदेश के किसानों से माफी मांगने के लिए कहा था.

जब ज्योतिरादित्य सिंधिया ने ट्विटर पर अपना बायो बदला था और कांग्रेस पार्टी का नाम हटाकर पब्लिक सर्वेंट कर दिया था. उसके कुछ दिन बाद ही लक्ष्मण सिंह ने भी अपने ट्विटर बायो से कांग्रेस पार्टी का नाम हटाकर विधायक, गायक और कृषक लिख लिया था.