Coronavirus: संसद के कामकाज पर कोरोना बेअसर, पूरा चलेगा सत्र

0
182

नई दिल्ली। कोरोना वायरस को लेकर जब स्कूल और दूसरे संस्थान बंद होने लगे हैं तो सांसदों की ओर से भी सत्र का कार्यकाल कम करने की मांग उठने लगी है। संसद भवन परिसर में केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने 3 अप्रैल तक चलने वाले संसद के मौजूदा सत्र को घटाने का सुझाव दिया है। हालांकि संसदीय कार्य मंत्री प्रहलाद जोशी ने कहा कि अवधि को कम करने का कोई सवाल ही नहीं है। अभी औपचारिक रूप से सदन के अंदर इसकी मांग नहीं उठी है।

केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर ने शुक्रवार को कहा कि भीड़भाड़ वाली जगहों से बचने की हिदायत दी जा रही है। जबकि संसद में तो हर दिन बंद कमरे में बड़ी संख्या में लोग जुटते हैं। किसी से यह कहा नहीं जा सकता है कि वह दो फीट की दूरी पर बैठे। जैसा कि इससे बचने के लिए निर्देश हैं। इनमें किसी को खांसी आ रही है तो किसी को छींकें आ रही हैं। किसी को कैसे दूर जाने के लिए कह सकते हैं।

ऐसे में सरकार से सुझाव है कि इस महामारी से बचाव के संसद सत्र की अवधि कम करनी पड़े तो विचार करना चाहिए। वहीं संसद भवन परिसर के बाहर पूर्व केंद्रीय मंत्री और सांसद डॉ. महेश शर्मा ने भी लोगों से कोरोना को लेकर सावधान किया। साथ ही दावा किया कि जैसी ही तापमान 30 से 35 डिग्री तक पहुंचेगा, यह खुद ही नष्ट हो जाएगा। वैसे भी इसका वायरस सिर्फ डेढ़ फीट तक के दायरे में प्रभाव छोड़ सकता है। बचाव के एहतियात के रूप में परिसर के अंदर जाने के लिए प्रवेश द्वार पर सैनिटाइजर रखे गए हैं जो अंदर जाने वाले हर व्यक्ति के लिए है।

छत्तीसगढ़ विस सत्र 25 तक टला

रायपुर में नईदुनिया के राज्य ब्यूरो के मुताबिक छत्तीसगढ़ सरकार ने एहतियातन विधानसभा का बजट सत्र 25 मार्च तक स्थगित कर दिया है। सरकार ने स्कूल और कालेजों के बाद अब तकनीकी समेत सभी शिक्षण व ट्रेनिंग संस्थान 31 मार्च तक के लिए बंद कर दिए गए हैं। आंगनबाड़ी केंद्र भी बंद रहेंगे, लेकिन रेडी-टू-ईट का वितरण जारी रहेगा। इस बीच रायपुर नगर निगम ने कोरोना से निपटने के लिए 98 लाख रुपये का बजट मंजूर किया है।

ओडिशा विस सत्र 29 तक स्थगित

वहीं भुवनेश्वर के जागरण संवाददाता की रिपोर्ट के अनुसार कोरोना वायरस के चलते विधानसभा अध्यक्ष सूर्यनारायण पात्र ने शुक्रवार को 29 मार्च तक बजट सत्र को स्थगित कर दिया। हालांकि, इस पर विरोधी दल के सदस्यों ने नाराजगी जाहिर की है। 31 मार्च तक मुख्यमंत्री शिकायत प्रकोष्ठ को भी बंद कर दिया गया है। इधर, कोरोना वायरस के संक्रमण को ओडिशा सरकार ने राज्य आपदा घोषित किया है। मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने विधानसभा में बताया कि इस महामारी से निपटने के लिए सरकार ने 200 करोड़ रुपये का विशेष पैकेज भी मंजूर किया है।

केरल विस सत्र समय पूर्व समाप्त

केरल विधानसभा का 19वां सत्र समय से पूर्व ही खत्म कर दिया गया है। कोरोना की दहशत का असर है कि शुक्रवार को कामकाज के बाद सत्र समाप्ति की घोषणा कर दी गई। हालांकि बाद में विपक्षी दल कांग्रेस ने इसका विरोध किया। मुख्यमंत्री पिन्नरई विजयन ने कहा कि विधानसभा की सलाहकार समिति ने सत्र समाप्त करने की सिफारिश की है।