कांग्रेस ने कहा, सरकार देखे कि ब्रिटेन जाने वाले भारतीयों को न हो कोई असुविधा

0
446

नई दिल्ली। ब्रिटेन में कोरोना संबंधी यात्रा नियमों को लेकर कांग्रेस ने मंगलवार को कहा कि सरकार को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि ब्रिटेन जाने वाले भारतीय नागरिकों को कोई असुविधा नहीं हो। पार्टी प्रवक्ता पवन खेड़ा ने संवाददाताओं से कहा, ‘ब्रिटेन की यात्रा करने के दौरान हमारे लोगों को जिस तरह की असुविधा का सामना करना पड़ेगा, उसे लेकर हम बेहद चिंतित हैं।’

मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए खेड़ा ने कहा कि इससे सरकार द्वारा अंतरराष्ट्रीय संबंधों को संभालने के तौर तरीकों पर स्वाभाविक रूप से सवाल खड़े होते हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी काफी राजनयिक अहमियत होने का दावा करते हैं, लेकिन दुर्भाग्य से इससे आम भारतीयों का बचाव नहीं होता। इससे भारतीय हितों की रक्षा नहीं होती। जब हमें जरूरत होती है तो हम भारी कीमत चुकाते हैं। हम सरकार से अनुरोध करते हैं कि तुरंत हस्तक्षेप करे और सुनिश्चित करे कि ब्रिटेन की यात्रा करने वाले किसी भी भारतीय को असुविधा का सामना न करना पड़े।

दरअसल, ब्रिटेन ने यात्रा के संबंध में फिलहाल लाल, पीली और हरे रंग की तीन अलग-अलग सूचियां बनाई हैं। कोरोना के खतरे के अनुसार अलग-अलग देशों को अलग-अलग सूची में रखा गया है। चार अक्टूबर से सभी सूचियों को मिला दिया जाएगा और केवल लाल सूची बाकी रहेगी। लाल सूची में शामिल देशों के यात्रियों को ब्रिटेन की यात्रा करने पर पाबंदियों का सामना करना पड़ेगा। भारत अभी पीली सूची में है।

कांग्रेस के दो दिग्गज नेताओं ने की थी ब्रिटेन की आलोचना

वहीं, पिछले दिनों कांग्रेस के दिग्गज नेता जयराम रमेश और शशि थरूर ने ब्रिटेन के कोरोना से संबंधित यात्रा नियमों की सोमवार को जमकर आलोचना की थी। इन नियमों के तहत कोविशील्ड वैक्सीन की दोनों डोज लगवा चुके भारतीयों के साथ भी बिना वैक्सीन लगवाए व्यक्ति जैसा सुलूक किया जाएगा। जयराम रमेश का कहना था कि इन नियमों से नस्लवाद की बू आती है।