MP: CAA के विरोध में उतरे BJP अल्पसंख्यक मोर्चा के नेता, शुरु हुआ इस्तीफों का दौर

0
108

भोपाल: CAA-NRC के विरोध में मध्य प्रदेश बीजेपी (Madhya Pradesh BJP) के कुछ अल्पसंख्यक मोर्चा के नेता खुलकर सामने आ गए हैं. नेताओं की ओर से सोशल मीडिया पर CAA और NRC के विरोध में पोस्ट लिखे जा रहे हैं. तो वहीं, कुछ नेताओं ने इस्तीफे भी दिए हैं. विरोध करने वालों में अल्पसंख्यक मोर्चे के भोपाल जिला उपाध्यक्ष आदिल खान और मोर्चे के प्रदेश मीडिया प्रभारी जावेद बेग शामिल हैं. अल्पसंख्यक मोर्चे के नेता नासिर शाह ने भी सीएए का विरोध किया है.

अल्पसंख्यक मोर्चे के प्रदेश मंत्री अकरम खान ने मोर्चे के प्रदेश अध्यक्ष को इस्तीफा भी भेजा दिया है. मसाजिद कमेटी के पूर्व अध्यक्ष एवं मप्र मदरसा बोर्ड के पूर्व सदस्य अब्दुल हकीम कुरैशी ने भी भाजपा की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है.
आदिल खान ने अपने फेसबुक पर लिखा कि BJP में जो भी अल्पसंख्यक नेता हैं और सीएए के विरोध में हैं वे 11 जनवरी को बैठक में आएं. चुनिंदा लोगों को इस बैठक में बुलाया गया है. इसमें एकजुट होकर इस्तीफा देने पर बात की जाएगी. जावेद बेग ने लिखा है कि भाजपा अब अटल बिहारी, लालकृष्ण आडवाणी और आरिफ बेग की नहीं रही. मुस्लिमों के लिए भाजपा में कुछ नहीं है.

CAA-NRC का विरोध करने वाले अल्पसंख्यक मोर्चा के मीडिया प्रभारी जावेद बेग का कहना है कि मैं BJP में ही हूं और हमारी पार्टी में लोकतंत्र है, बोलने का हक है. उन्होंने कहा कि जो मुनासिब लग रहा है वह मैं बोल रहा हूं. समाज के लिए हमारा मोर्चा बना हुआ है और मैं समाज के हित में खड़ा हूं.

उन्होंने कहा कि बात सिर्फ मुस्लिम समुदाय की नहीं है, सीएए हर समाज के लोगों के लिए परेशानी का सबब है. एनआरसी को लेकर उन्होंने कहा कि जो पढ़े-लिखे नहीं हैं, लेबर क्लास हैं जिनको डॉक्यूमेंट की जानकारी नहीं है, वह सब परेशानी में आएंगे. अगर मुझे लग रहा है कि यह गलत है तो मैं आवाज उठा सकता हूं.

मध्य प्रदेश बीजेपी की सफाई

CAA -NRC के विरोध करने और इस्तीफा देने वाले मध्यप्रदेश बीजेपी के अल्पसंख्यक नेताओं पर बीजेपी ने सफाई भी दी है. पार्टी के प्रवक्ता रजनीश अग्रवाल ने कहा मुझे नहीं पता कि किसने बता दिया कि एनआरसी देश में लागू हो गया है. ये केवल भ्रम, दहशत फैलाकर भड़काने का काम है. एनआरसी तो लाए ही नहीं, एनआरसी केवल असम में आया है और वह भी सुप्रीम कोर्ट की गाइडलाइन के मुताबिक है. ये केवल भड़काने की राजनीति कांग्रेस कर रही है. वो हिंसा फैलाने की राजनीति कर रही है. एक मजहब विशेष खासतौर मुसलमानों में दहशत फैलाने का काम कर रही है.

कांग्रेस ने साधा बीजेपी पर निशाना

वहीं कांग्रेस नेता मानक अग्रवाल ने CAA और NRC को लेकर बीजेपी में हो रहे विरोध पर कहा कि बीजेपी के लोग CAA का तो विरोध कर रहे हैं, लेकिन बीजेपी के अंदर बीजेपी का भी विरोध शुरु हो गया है. सीएए को लेकर उन्हीं की पार्टी के लोग अल्पसंख्यक मोर्चा के लोग विरोध कर रहे हैं. कई लोगों ने तो सीएए के समर्थन में बीजेपी से इस्तीफा दे दिया है.