2020 में वैश्विक अर्थव्यवस्था में भारत की बल्‍ले-बल्‍ले, वृद्घि दर में अमेरिका से आगे होगा भारत

0
98

दावोस । बैंक ऑफ अमेरिका के सीईओ ब्रायन टी. मोयनिहान ने कहा है कि भारतीय अर्थव्यवस्था की स्थिति काफी अच्छी है और यहां उपभोग बढ़ रहा है। भारत के पास बड़ी युवा आबादी है और प्रतिभा की कोई कमी नहीं है। इनकी क्षमता का अभी पूरा दोहन नहीं हुआ है। 2020 में वैश्विक अर्थव्यवस्था की वृद्घि दर 3.2 फीसद और अमेरिका की 1.7 फीसद रहेगी।

एक साक्षात्कार में मोयनिहान ने कहा कि भारत के बारे में सबसे अच्छी बात है कि यह बड़ा है, बढ़ रहा है, यहां की बड़ी आबादी युवा है और शिक्षा में लगातार सुधार हो रहा है। यहां कौशल है और सेवा क्षेत्र में प्रतिस्पर्धी क्षमता है। यह नॉलेज इकोनॉमी बनने की दिशा में बढ़ रहा है। यह अगली औद्योगिक क्रांति का केंद्र बनने की ओर अग्रसर है।

मोयनिहान ने अमेरिका समेत वैश्विक अर्थव्यवस्था के विकास को लेकर भी भरोसा जताया। उन्होंने अपनी रिसर्च टीम के अनुमान का उल्लेख करते हुए कहा कि 2020 में वैश्विक अर्थव्यवस्था की वृद्घि दर 3.2 फीसद और अमेरिका की 1.7 फीसद रहेगी। उन्होंने कहा, ‘कुल मिलाकर दुनिया के बारे में हमें अच्छा महसूस होता है। यह धीमी वृद्घि का माहौल है और हमें इसी के साथ आगे बढ़ना है। रही बात अमेरिका की, तो हम सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था हैं और अब भी बढ़ रहे हैं। यह अच्छी बात है।’