अन्य दलों के ‘अच्छे लोगों’ का AAP में हमेशा स्वागत, गोवा में चुनाव जीत सकती है पार्टी- आतिशी

0
222

पणजी : आम आदमी पार्टी (AAP) की विधायक आतिशी ने कहा है कि उनकी पार्टी के दरवाजे अन्य दलों के ‘अच्छे लोगों’ के लिए हमेशा खुले हैं। बशर्ते वे भ्रष्ट या सांप्रदायिक न हों और उनकी कोई आपराधिक मामले न हो। गौरतलब है कि आतिशी को गोवा में आम आदमी पार्टी का प्रभारी बनाया गया है। वो यहां पार्टी के आधार को मजबूत करने के लिए पहुंची हैं। उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी कांग्रेस और भाजपा के विकल्प के रूप में उभरना चाहती है और तटीय राज्य में 2022 के विधानसभा चुनाव जीत सकती है।

आतिशी ने कहा कि पार्टी ने अन्य राजनीतिक दलों के ‘अच्छे लोगों’ के लिए अपने दरवाजे बंद नहीं किए हैं। हमने हमेशा कहा है कि हमारे दरवाजे अन्य राजनीतिक दलों के अच्छे लोगों के लिए खुले हैं। यह कहना अहंकर होगा कि अच्छे लोग केवल AAP में हैं।

मानदंडों को लेकर पूरी तरह से स्पष्ट

आतिशी ने आगे कहा कि उनकी पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं को शामिल करने के अपने मानदंडों को लेकर पूरी तरह से स्पष्ट है। हमारे पार्टी कभी कोई ऐसा व्यक्ति नहीं होगा जिसकी भ्रष्ट, आपराधिक या सांप्रदायिक पृष्ठभूमि हो। हम अन्य राजनीतिक दलों के नेताओं और कार्यकर्ताओं के लिए खुले हैं, जिन्होंने लोगों के लिए संघर्ष किया है।

2017 के गोवा विधानसभा चुनावों में पार्टी की हार से सबक लेने की जरूरत

आतिशी ने यह भी कहा कि 2017 के गोवा विधानसभा चुनावों में पार्टी की हार से सबक लेने की जरूरत है। गोवा के अनुभव से, हमने जो सीखा वह यह है कि 2017 के चुनावों के दौरान हमारे पास कोई जमीनी संगठन नहीं था। पार्टी के अभियान के बारे में बात की गई थी और जनता का समर्थन था। लेकिन, हमारे पास कोई जमीनी संगठन नहीं था और हम निर्माण नहीं जुटा सके।

39 सीटों पर चुनाव लड़ना गलती नहीं थी

2017 में, AAP ने गोवा में कुल 40 विधानसभा क्षेत्रों में से 39 पर चुनाव लड़ा, लेकिन वह एक भी सीट नहीं जीत पाई और उसके उम्मीदवारों ने अधिकांश सीटों पर जमानत गवां दी। आतिशी ने इसे लेकर कहा, ‘हमें नहीं लगता कि 39 सीटों पर चुनाव लड़ना एक गलती थी। हम सभी को पार्टी का संदेश देना चाहते थे। एक राजनीतिक पार्टी लोगों की आवाज़ होती है। जब तक आप लोगों तक नहीं पहुंचेंगे, आप उनकी शिकायतों को कैसे जान पाएंगे।’