5 वर्षीय बच्ची के साथ दुष्कर्म करने वाले दरिंदे चढ़े पुलिस के हत्थे

0
147

नरसिंहपुर । जिले में घट रही दर्दनाक घटनाएं चिंता का विषय बनती जा रही हैं। चार माह पूर्व हुए 5 वर्षीय बच्ची की घटना को लोग भूल नहीं पाये थे कि बरमान चौकी अंतर्गत एक और मामला सामने आ गया। दोनो मामलों में आरोपियों द्वारा नशे करने के बाद ही अंजाम दिया गया। बीते सप्ताह बरमान चौकी सुआतला थाना अंर्तगत 6 वर्षीय बच्ची के गुमने का मामला सामने आया था। दो दि

न बाद बच्ची की लाश घर से 100 मीटर की दूरी पर मिली ।
परिजनों द्वारा बताया गया था कि जिस समय बच्ची अपहरण किया गया तब वह अपने नाना एवं नानी साथ घर में सो रही थी। रात करीब 12:30 बजे नींद खुलने पर पुत्री नहीं दिखी तब उसनें मां को जगाकर बताया। आसपास लड़की की तलाश की, जो कहीं नहीं मिली। तब अज्ञात व्यक्ति द्वारा पुत्री आरती को अपहरण करने की शंका हुई। थाना सुआतला में अपराध क्रमांक 492/21

9 धारा 363 भादंवि का अपराध कायम कर लिया गया।

घटना की गंभीरता को देखते हुए सूचना पर पुलिस अधीक्षक डॉ. गुरकरन सिंह द्वारा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राजेश तिवारी एवं एसडीओपी तेंदूखेड़ा मोहंती मरावी, एफएसएल, डॉग स्क्वाड एवं फिंगर प्रिंट टीम के साथ तत्काल घटनास्थल पर पहुंचकर प्रकरण से संबंधित आवश्यक जानकारियां एकत्रित की गई। टीमों द्वारा बच्ची की बरामदगी एवं आरोपियों की गिरफ्तारी हेतु विभिन्न स्थानों पर तलाश की गई एवं मुखबिरों को सक्रिय किया गया।
अपहरण के दो दिन बाद घर से 100 मीटर की दूरी पर मुकेश सेन के खेत में बने वेयर हाऊस के पास पड़ा हुआ मिला। सूचना मिलने पर तत्काल पुलिस

अधीक्षक, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, एसडीओपी तेदूखेडा द्वारा भी आवश्यक साक्ष्यों को एकत्रित कर पंचनामा कार्रवाई की गई।

Ñमुखबिर से प्राप्त सूचना पर घटना को अंजाम देने वाले मिढली टोरिया निवासी मुण्डे रजक एवं आनंद कोल को गिरफ्तार कर पूछताछ की गई। पूछताछ में आरोपियों ने घटना को अंजाम देने स्वीकार किया। पुलिस ने धारा 366 क, 376 डी, बी, 376 (3), 302 भादंवि एवं धारा 3 क/4, 5 एम/6 पाक्सो एक्ट तथा धारा 3 (2-5), 3 (1-डब्ल्यू-आई आई), 3 (2-व्ही-ए) एससी/एसटी

एक्ट का ईजाफा किया गया है साथ ही वैज्ञानिक साक्ष्य हेतु आरोपियों का ब्लड नमूना प्राप्त कर परीक्षण के लिए एफएसएल सागर भेजा गया है।