सत्यापन कार्य में बरती जाये पारदर्शिता – कलेक्टर

0
107

समय सीमा की बैठक में कलेक्टर ने दिए अधिकारियों को निर्देश

जबलपुर – कलेक्टर भरत यादव ने जिले में खाद्य सुरक्षा अधिनियम के पात्रता पर्चीधारी एवं बीपीएल सूची में शामिल परिवारों के सत्यापन के कार्य में पारदर्शिता एवं निष्पक्षता बरतने के निर्देश कलेक्टर भरत यादव ने आज कलेक्टर कायार्लय में आयोजित समय सीमा की बैठक में अफसरों को कार्य की समीक्षा के बाद दिए हैं । उन्होंने कहा कि जहां सत्यापन का काम अभी भी धीमा है वहां गति लाई जाए । जिन सत्यापन दलों ने अभी तक लॉग इन नही किया है उन सत्यापन दलों का एम राशन मित्र एप पर शीघ्र लॉग इन करना सुनिश्चित किया जाए ।

श्री यादव ने 10 दिसम्बर तक सत्यापन का कार्य पूरा कर लेने की हिदायत अधिकारियों को दिए तथा इस कार्य पर निरंतर मॉनिटरिंग करने के निर्देश भी दिए । उन्होंने रक्तचाप और मधुमेह जैसे गैर संचारी रोगों के प्रति आमलोगों में जागरूकता पैदा करने की आवश्यकता बताई है । ताकि इन रोगों से पीड़ित व्यक्तियों को प्रारम्भिक स्तर पर ही चिन्हित किया जा सके और उन्हें बेहतर उपचार उपलब्ध कराया जा सके । आज सोमवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित समय सीमा प्रकरणों की साप्ताहिक समीक्षा बैठक में श्री यादव ने सभी एसडीएम को अपने-अपने क्षेत्र में स्थित शासकीय अस्पतालों की रोगी कल्याण समिति की बैठक में गैर संचारी रोगों की रोकथाम के उपायों पर चर्चा करने के निर्देश दिए । कलेक्टर ने नियमित टीकाकरण से छूट गए बच्चों के टीकाकरण के लिये आज सोमवार से शुरू हुए मिशन इंद्रधनुष 2.0 अभियान के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए सभी अधिकारियों को पूरी जिम्मेदारी से अपनी-अपनी भूमिका का निर्वाह करने के निर्देश दिए हैं । उन्होंने सभी एसडीएम, जनपद पंचायतों के सीईओ और नगर पालिका परिषद के सीएमओ को मिशन इंद्रधनुष के क्रियानवयन पर निगरानी के निर्देश दिये ।
समय सीमा प्रकरणों की बैठक में धान उपार्जन कार्य के लिये की गई व्यवस्थाओं की समीक्षा भी की गई । कलेक्टर द्वारा उपार्जन व्यवस्था से जुड़े अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिए गए कि एफएक्यू से निम्न गुणवत्ता का धान किसी भी सूरत में न खरीदा जाए । श्री यादव ने खरीदी केन्द्रों पर हर जरूरी व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने – करने के साथ किसानों की सुविधाओं का ध्यान भी रखने के निर्देश दिए हैं । उन्होंने कहा कि धान खरीदी को लेकर गड़बड़ियों या अनियमितताओं की मिलने वाली प्रत्येक शिकायत को गम्भीरता से लिया जाएगा तथा दोषी व्यक्तियों के विरुद्ध कठोर कार्यवाही की जाएगी । कलेक्टर ने किसानों से तुलाई ,परिवहन और भंडारण के नाम पर अवैध वसूली के मामलों में भी सख्त से सख्त कार्यवाही करने और दोषी व्यक्ति को सीधे जेल भेजने के निर्देश दिए । उन्होंने भंडारण क्षमता बढ़ाने के लिये चिन्हित स्थानों पर ओपन केप का निर्माण शीघ्र प्रारम्भ करने पर जोर दिया । श्री यादव ने अपने- अपने क्षेत्र के खरीदी केन्द्रों की नियमित मॉनिटरिंग करने के निर्देश सभी एसडीएम को दिए । इस अवसर पर बताया गया कि जिले में आज सोमवार दो दिसम्बर से 16 समितियों द्वारा धान का उपार्जन शुरू किया जा रहा है ।