यूक्रेनी डॉक्टरों ने अंधेरे में की बच्चे की हार्ट सर्जरी:रूसी हमले से बिजली गुल हुई, इमरजेंसी लाइट में ऑपरेशन पूरा किया

0
54

सोशल मीडिया पर यूक्रेन का एक वीडियो वायरल हो रहा है। इसमें कुछ डॉक्टर्स अंधेरे में एक बच्चे की हार्ट सर्जरी कर रहे हैं। दरअसल, रूसी मिसाइलों ने यूक्रेन की एनर्जी सप्लाई तबाह कर दी। करीब एक करोड़ लोग बिना बिजली के रहने के लिए मजबूर हो गए हैं।

वीडियो 24 नवंबर का है। इरीना वोइचुक नाम की महिला ने इसे पोस्ट करते हुए लिखा- रूस ने कीव पर मिसाइल से हमला किया। इससे कीव हार्ट इंस्टीट्यूट की बिजली गुल हो गई। यहां डॉक्टर्स एक बच्चे की सर्जरी कर रहे थे। जिसके बाद इमरजेंसी लाइट की मदद से सर्जरी पूरी की गई।

2 मिनट के इस वीडियो में हार्ट सर्जन्स को हेडलैंप पहने और इमरजेंसी लाइट पकड़े देखा जा सकता है।
तंज कसते हुए डॉक्टर बोले- रूस यही तो चाहता है
वीडियो में एक डॉक्टर ने बनाया है। इसे बताने हुए उन्होंने कहा- आज हमें इस तरह से अंधेरे में सर्जरी करनी पड़ रही है। हमें नहीं पता कि क्या हुआ लेकिन एकदम लाइट चली गई और अंधेरा हो गया। हम सर्जरी को बीच में रोक नहीं सकते थे तो इमरजेंसी लाइट के इस्तेमाल से इसे पूरा किया गया। उन्होंने तंज कसते हुए रूस से कहा- खुशी मनाओ, बहुत अच्छा काम किया है। आप ये ही तो चाहते थे।

इस तस्वीर में अस्पताल में अंधेरा देखा जा सकता है। तस्वीर में दिख रहे डॉक्टर का कहना है कि एनर्जी क्राइसिस के कारण यहां ठंड से लाखों लोगों की जान का खतरा है।
डॉक्टर्स की सराहना हो रही
सोशल मीडिया पर लोग डॉक्टर्स की सराहना कर रहे हैं। कुछ लोग उन्हें ‘हीरो’ कह रहे हैं। एक यूजर ने लिखा- ये सर्जन्स हीरो हैं। अच्छे दोस्त हैं। परेशानी के समय भी लोगों की मदद करने से पीछे नहीं हट रहे हैं। एक अन्य यूजर ने लिखा- जंग के बीच ये डॉक्टर्स शांत हैं। ये मेहनती और प्रोफेशनल्स हैं, जो मुश्किल हालात में भी लोगों का इलाज कर रहे हैं।

रूस ने 23 नंवबर को दागीं 70 मिसाइलें
रूसी सैनिकों ने यूक्रेन की राजधानी कीव पर 70 मिसाइलें दागीं। हमले में 10 लोगों की मौत हो गई। 30 लोग घायल हो गए। रूसी हमले के चलते न्यूक्लियर पावर प्लांट्स 40 सालों में पहली बार पावर ग्रिड से डिस्कनेक्ट हो गए हैं। कीव में एक करोड़ लोग बिना बिजली के रहने को मजबूर हैं, जबकि 30 लाख लोग ठंड से बचने के लिए अपना घर छोड़ सकते हैं। यूक्रेन में ठंड जानलेवा हो सकती है। एक अनुमान के मुताबिक इस साल वहां के कई इलाकों का तापमान -20 डिग्री से भी कम जा सकता है। इससे बिना बिजली के निपटना नामुमकिन है।

8 अक्टूबर को यूक्रेन ने रूस का अहम ब्रिज उड़ाया, फिर पुतिन ने बदला लिया
24 फरवरी को शुरू हुई रूस-यूक्रेन जंग 8 अक्टूबर को तेज हो गई। इस दिन यूक्रेन ने रूस का कर्च ब्रिज उड़ा दिया था। ये ब्रिज रूस को क्रीमिया से जोड़ता है। इसका बदला लेते हुए रूस ने 48 घंटे बाद 10 अक्टूबर को यूक्रेन पर 83 मिसाइलें दाग दी थीं। इस दौरान यूक्रेन का पारकोवी ब्रिज भी तबाह हो गया था। यह नाइपर नदी पर पैदल यात्रियों के लिए बनाया गया था। इसके अलावा रूस ने कर्च ब्रिज उड़ाने के आरोप में यूक्रेन के 8 लोगों को गिरफ्तार किया है।