दृश्यम 3 बनने में भी सात साल न लग जाए:अजय देवगन की ऑनस्क्रीन बेटी ने कहा- शायद अगले पार्ट में मेरी शादी हो जाए

0
67

दृश्यम 2 थिएटर्स में रिलीज चुकी है। अभिषेक पाठक के डायरेक्शन में बनी यह फिल्म बॉक्स ऑफिस पर धमाल मचा रही है। फिल्म में अजय देवगन की बेटी अंजू का किरदार निभा रही एक्ट्रेस इशिता दत्ता की माने तो ‘दृश्यम 2’ एक बार फिर से ऑडियंस को थिएटर में बड़े तादाद में लाने में कामयाब रहेगी। दैनिक भास्कर से खास बातचीत के दौरान उन्होंने फिल्म से जुडी कुछ खास बातें शेयर की और बातों-ही-बातों में दृश्यम 3 पर भी रौशनी डाली। आइए जानते हैं उन्होंने क्या कहा-

फिल्म को लेकर काफी पॉजिटिव रिस्पॉन्स मिल रहा हैं, क्या कहना चाहेंगी?

मेरी नर्वसनेस तभी से ही शुरू हो गई थी जब पता चला की दृश्यम का दूसरा पार्ट बनने वाला हैं। सात सालों में लोग इस फिल्म को भूले नहीं हैं। जब ओरिजिनल मलयालम फिल्म आनाउंस हुई तो मुझे यकीन हो गया था कि ये फिल्म हिंदी में भी बनेगी। तभी से मैं बहुत उत्साहित थी क्योंकि बतौर एक्टर कई सवालों का जवाब जानना चाहती थी तो जाहिर हैं ऑडियंस भी जानना चाहते थे कि ‘दृश्यम 2’ में क्या होगा। आखिरकार हम पिछले एक साल से जो तैयारी कर रहे थे वो लोगों तक पहुंचा और अब ऑडियंस का रिएक्शन बहुत अच्छा आ रहा है, तो जाहिर सी बात है कि मैं काफी खुश हूं।

फिल्म की काफी तारीफ हो रही है, इस पर आपका क्या रिएक्शन है ?

मैं दृश्यम के पहले पार्ट का हिस्सा बनने पर काफी गर्व महसूस करती थी क्योंकि एक बड़े लिगेसी का हिस्सा बनने का मौका मिला था। दृश्यम 2 के साथ भी ऐसा ही अनुभव रहा, इस सीक्वल का थिएटर में आने से पहले ही लोगों का एंटीशिपेशन लेवल काफी ज्यादा था। यहां तक की मेरे दोस्त भी मुझे ये फिल्म देखने के लिए बार-बार कह रहे हैं, वो भी फिल्म देखने का इंतज़ार नहीं कर सकते। इस बात में दो राय नहीं है कि अभी फिलहाल लोग थिएटर कम जा रहे है लेकिन मुझे पूरा यकीन है कि दृश्यम 2 इस जिंक्स को तोड़ देगी और लोग फिर से थिएटर में बड़े तादाद में आना शुरू कर देंगे।

फिल्म के दौरान सबसे चैलेजिंग मोमेंट कौन सा था?

मेरा किरदार सात साल तक डर में था जिससे गलती में किसी का मर्डर हो जाता हैं। जिस ट्रॉमा से वो गुजरती है, उसे पर्दे पर दिखाना थोड़ा चैलेजिंग था। किरदार को निभाना काफी मुश्किल था। बतौर एक्टर, मैं उसे रियल रखना चाहती थी, जो थोड़ा टफ था।

क्या दृश्यम 3 भी बनेगी?

हां, मैंने भी देखा। बहुत सारी बातें शुरू हो गई है। जब दृश्यम-1 बनी तब उसके बाद सात साल लग गए ‘दृश्यम 2’ बनने में। उस वक्त हम सोचते थे कि फिल्म के दूसरे पार्ट में क्या होगा? अब जब ‘दृश्यम 2’ बन चुकी हैं तो मुझे पूरा यकीन हैं कि ‘दृश्यम 3’ भी बनेगा। शायद उस वक्त मेरी (फिल्म के इशिता का किरदार) शादी हो जाएगी, मैं अपने आप में ही एक कहानी बुन रही हूं। हां, कहानी चाहे जो भी होगी, अच्छी ही होगी क्योंकि कहानी बहुत दमदार हैं। बस हां, इस बार फिल्म बनने में सात साल नहीं लगना चाहिए ,मुझसे रहा नहीं जा रहा, जानना चाहती हूं कि आगे क्या होता हैं।

दृश्यम 2 के बाद की क्या प्लानिंग है?

अभी अच्छे स्क्रिप्ट का हिस्सा बनने का प्लानिंग हैं। मैं एक प्रोजेक्ट से दूसरे प्रोजेक्ट में स्विच करने के लिए थोड़ा वक्त लेती हूं। ओटीटी प्लेटफार्म और वेब सीरीज के लिए बातचीत चल रही है, शायद अगले साल उसमे कुछ करती नजर आऊं। फ़िलहाल काम शुरू नहीं किया हैं, इसीलिए इस बारे में ज्यादा कुछ बता नहीं सकती। लेकिन हां, वेब सीरीज का हिस्सा ज़रूर बनूंगी। मुझे थ्रिलर शैली बहुत पसंद हैं, कॉमेडी भी पसंद हैं लेकिन यदि थ्रिलर और कॉमेडी के बीच चुनना पड़े तो थ्रिलर प्रोजेक्ट में काम करना चाहूंगी।